menu-icon
India Daily
share--v1

विद्रोहियों के आगे बेबस हुआ म्यांमार का जुंटा शासन, सैन्य चौकियां छोड़कर भाग रहे सैनिक 

Myanmar News: म्यांमार के जुंटा सैनिक विरोधी गुटों से जूझते दिखाई दे रहे हैं. विद्रोही गुटों ने चीन सीमा पर जुंटा शासन से व्यापार चौकी छीन ली है और उस पर अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया है. विद्रोही गुट केआईए के लड़ाकों ने कई चौकियों पर भी अपना कब्जा जमा लिया है. इस संघर्ष के दौरान जुंटा सैनिक अपनी जान बचाकर वहां से भाग गए. केआईए के प्रवक्ता ने कहा कि हमारे लड़ाकों ने बड़े सीमाई इलाकों पर कब्जा कर लिया है.

auth-image
India Daily Live
KIA
Courtesy: Social Media

Myanmar News: म्यांमार के सैन्य शासन जुंटा को विरोधियों ने खदेड़ दिया है. जुंटा शासन ने काचिन और उत्तरी शान राज्य और चीन के साथ व्यापार वाले सभी मार्गों पर नियंत्रण खो दिया है. इन मार्गों पर अब काचिन इंडिपेंडेंस आर्मी ( KIA ) ने कब्जा कर लिया है. इससे पहले म्यांमार की सैन्य सरकार का यहां पर कब्जा था. केआईए ने म्यांमार सेना की सदुंग टेक्निकल कमांड पर कब्जा कर लिया है. सदुंग टेक्निकल कमांड म्यांमार की सेना के उन 10 सैन्य ठिकानों में से एक है जिस पर विरोधियों ने कब्जा जमाया है.

विद्रोहियों ने इसके अलावा सीमावर्ती व्यापार शहर कानपिकेटी सड़क पर भी नियंत्रण कर लिया है. केआईए के इस कदम के बाद जुंटा सैनिक चारों ओर से घिर गए हैं क्योंकि आसपास के सभी मार्गों पर विद्रोही गुट केआईए के लड़ाकों का पहरा है. 

जान बचाकर भागे जुंटा सैनिक 

अप्रैल माह में केआईए के लड़ाकों ने सड़क मार्ग से सदुंग से 310 किमी साउथ में सीमावर्ती व्यापार शहर ल्वेलगेल पर नियंत्रण कर लिया था. केआईए के लड़ाके इलाके में सेना की कई चौकियों पर अपना नियंत्रण जमा चुके हैं. केआईए के स्पोक्सपर्सन कर्नल नॉ बु ने कहा कि जुंटा से जुड़े सीमाई इलाकों पर चार चौकियों पर कब्जा कर लिया है. हमारा अब वैनगमाव से लाफई तक के सड़क मार्ग पर अपना नियंत्रण कर लिया है. कर्नल ने कहा कि इस दौरान जुंटा के सैनिक अपनी जान बचाकर भाग गए. 

होता है लाखों डॉलर का व्यापार 

रिपोर्ट के अनुसार, कानपिकेटी के माध्यम से 400,000 अमेरिकी डॉलर का होता है. वहीं, ल्वेलगेल के जरिए 350,000 डॉलर का व्यापार होता है. साल 2021 में सैन्य तख्तापलट के बाद दल बदलने वाले सेना के कैप्टन जिन याव ने कहा कि केआईए चीन के साथ जुंटा सैनिकों को निशाना बना रहा है. उन्होंने ल्वेलगेल पर अपना नियंत्रण जमा लिया है.