menu-icon
India Daily
share--v1

कनाडा में भारतीय छात्र पर हमला, इलाज के दौरान हुई मौत, भारत लाया जाएगा शव

कनाडा में फूड डिलीवरी पार्टनर के तौर पर काम करने वाले एक भारतीय छात्र पर कनाडा में कुछ संदिग्धों के हमले में उनकी मौत हो गई. छात्र की पहचान गुरविंदर नाथ के रूप में हुई है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गुरविंदर नाथ को 9 जुलाई को सुबह करीब 2:10 बजे मिसिसॉगा के ब्रिटानिया और क्रेडिटव्यू इलाकों में फूड की डिलीवरी कर रहे थे. इसी दौरान संदिग्धों के द्वारा उनका हत्या कर दी गई.

auth-image
Vineet Kumar
कनाडा में भारतीय छात्र पर हमला, इलाज के दौरान हुई मौत, भारत लाया जाएगा शव

 

नई दिल्लीः कनाडा में फूड डिलीवरी पार्टनर के तौर पर काम करने वाले एक भारतीय छात्र पर कनाडा में कुछ संदिग्धों के हमले में उनकी मौत हो गई. छात्र की पहचान गुरविंदर नाथ के रूप में हुई है. वह 24 साल का था. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गुरविंदर नाथ को 9 जुलाई को सुबह करीब 2:10 बजे मिसिसॉगा के ब्रिटानिया और क्रेडिटव्यू इलाकों में फूड की डिलीवरी कर रहे थे. इसी दौरान संदिग्धों के द्वारा उनका हत्या कर दी गई.

पुलिस कर रही है छानबीन
पुलिस ने मीडिया को बताया कि नाथ से जानबूझकर सुनसान इलाके मे फूड का  ऑर्डर मंगवाया था. पील क्षेत्र के पुलिस अधिकारी ने कहा कि सुनसान जगह पर ऑर्डर मंगाने का उद्देश्य नाथ को चोट पहुंचाना था. जांच कर रही पुलिस टीम ने इस मामले में कई और लोगों के शामिल होने की आशंका व्यक्त की है. पुलिस ने नाथ द्वारा हमले से पहले दिए गए फूड ऑर्डर का रिकॉर्ड भी इकट्ठा किया है.

27 जुलाई को भारत आएगा शव

कैनेडियन ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन (सीबीसी) ने बताया है कि गुरविंदर नाथ का पार्थिव शरीर भारतीय महावाणिज्य दूतावास की मदद से भारत लाया जाएगा. नाथ जुलाई 2021 में भारत से कनाडा गया था और वहां अपना बिजनेस करना चाहता था. नाथ के कनाडा में रह रहे रिश्तेदारों ने बताया कि वह निर्दोष था, वह फूड डिलीवरी का काम कर रहा था जब लोगों ने उसे ऊपर हमला किया.


सैकडों लोगों ने निकाला कैंडल मार्च

सीबीसी के अनुसार, कनाडा के मिसिसॉगा में नाथ को श्रद्धांजलि देने के लिए सैकड़ों की तादाद में लोग इकट्ठा हुए और कैंडल मार्च निकाला. कैंडल मार्च निकाल रहे सभी लोगों का कहना है कि वह अपने परिवार की ढेर सारी उम्मीदें लेकर कनाडा आया था.हमलावरों ने उसको उससे परिवार से छीन लिया, लोगों ने उसका सपना खत्म कर दिया.