menu-icon
India Daily
share--v1

Myanmar News: हिंसाग्रस्त म्यांमार से भारत सतर्क, विदेश मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी

Myanmar Clashes: भारतीय विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को अपने नागरिकों को म्यांमार की गैर-जरूरी यात्रा से बचने की सलाह दी है. पिछले महीने यहां शुरू हुई तेज लड़ाई के बाद लगभग 90000 से ज्यादा लोग विस्थापित हुए हैं.

auth-image
Shubhank Agnihotri
Myanmar News: हिंसाग्रस्त म्यांमार से भारत सतर्क, विदेश मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी

Myanmar Clashes: म्यांमार की जुंटा सरकार और सरकारी बलों में लगातार संघर्श बढ़ता जा रहा है. इस दौरान भारतीय विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को अपने नागरिकों को म्यांमार की गैर-जरूरी यात्रा से बचने की सलाह दी है. विदेश मंत्रालय ने म्यांमार में रहने वाले भारतीयों को यांगून में भारतीय दूतावास में पंजीकरण कराने का परामर्श जारी किया है. 2021 में म्यांमार में मौजूदा संघर्ष शुरू होने के बाद बड़ी संख्या में लोगों ने भारत की जमीन पर शरण ले रखी है.

लगभग एक लाख लोगों का विस्थापन


यूएन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, म्यांमार में पिछले महीने शुरू हुई तेज लड़ाई के बाद लगभग 90000 से ज्यादा लोग विस्थापित हुए हैं. भारत सरकार की ओर से जारी की गई एडवाइजरी के मुताबिक, म्यांमार में खराब हो रही सुरक्षा स्थिति को देखते हुए सभी भारतीयों नागरिकों को पड़ोसी देश की गैर-जरूरी यात्रा से बचने की सलाह दी जाती है. विदेश मंत्रालय ने कहा कि सड़क मार्ग से बी अंतरराज्यीय यात्रा करने से बचें.

दर्जनों सैनिकों को भारत वापस भेज चुका 


म्यांमार के मिलिशिया समूह पीपुल्स डिफेंस फोर्स के साथ तीखी मुठभेड़ के बाद भागकर भारत की शरण लेने वाले 29 सैनिकों को रविवार को उनके देश वापस भेज दिया गया है. इसके अलावा मिलिशिया समूह के सैन्य बलों पर हमले के बाद भारत आने वाले 74 सैनिकों को वापस भेजा जा चुका है. यह सैनिक 16 नवंबर को भागकर मिजोरम आए थे. दरअसल अंतर्राष्ट्रीय सीमा से कुछ किमी दूर म्यांमार के चिन राज्य के तुइबुअल में पीडीएफ से जुड़े एक अन्य मिलिशिया समूह चिन नेशनल डिफेंस फोर्स ( CNDF) ने कब्जा कर लिया था.

 

यह भी पढ़ेंः Israel Hamas War: बंधकों की रिहाई के साथ रुकेगी जंग, 4 दिनों के युद्धविराम समझौते पर इजरायली कैबिनेट की मुहर