menu-icon
India Daily
share--v1

'कनाडा में खालिस्तानी आतंकी की हत्या के पीछे हो सकता है भारत का हाथ', ट्रूडो ने भारत के खिलाफ मोर्चा खोला

भारत और कनाडा के रिश्ते खराब होते जा रहे हैं. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने मंगलवार को कहा कि देश की सुरक्षा एजेंसियां भारत सरकार और इस साल की शुरुआत में खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के बीच संबंध की जांच कर रही हैं.

auth-image
Gyanendra Sharma
'कनाडा में खालिस्तानी आतंकी की हत्या के पीछे हो सकता है भारत का हाथ', ट्रूडो ने भारत के खिलाफ मोर्चा खोला

नई दिल्ली: भारत और कनाडा के रिश्ते खराब होते जा रहे हैं. कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने मंगलवार को कहा कि देश की सुरक्षा एजेंसियां भारत सरकार और इस साल की शुरुआत में खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के बीच संबंध की जांच कर रही हैं.

ट्रूडो ने ओटावा में हाउस ऑफ कॉमन्स में बोलते हुए कहा, "कनाडाई सुरक्षा एजेंसियां भारत सरकार के एजेंटों और एक कनाडाई नागरिक हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के बीच संभावित संबंध के विश्वसनीय आरोपों पर सक्रिय रूप से काम कर रही हैं." ट्रूडो ने कहा कि कनाडा के नागरिक की उसी की सरजमीं पर हत्या में किसी अन्य देश या विदेशी सरकार की संलिप्तता बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

भारत सरकार द्वारा वांछित हरदीप सिंह निज्जर इस साल 18 जून को एक गोलीबारी में मारा गया था. निज्जर की सर में एक गुरुद्वारे के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई. ट्रूडो ने कहा कि उन्होंने जी20 शिखर सम्मेलन में भी इस मुद्दे को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने उठाया था.

जी20 में  पीएम मोदी ने उठाया था खालिस्तान का मुद्दा

कनाडाई प्रधान मंत्री ने कहा, "कनाडा ने भारत सरकार के शीर्ष खुफिया सुरक्षा अधिकारियों को अपनी गहरी चिंताओं से अवगत कराया है. पिछले हफ्ते, जी 20 में मैंने इस मुद्दे को व्यक्तिगत रूप से और सीधे प्रधान मंत्री मोदी के सामने रखा था. ट्रूडो ने भारत सरकार से इस मामले की तह तक जाने के लिए कनाडा के साथ सहयोग करने" और दूसरे देश में "अतिरिक्त-न्यायिक संचालन" पर अपनी स्थिति दोहराने का आग्रह किया.

जी20 शिखर सम्मेलन से इतर एक बैठक में पीएम मोदी ने कनाडा में "चरमपंथी तत्वों" द्वारा की जा रही "भारत विरोधी गतिविधियों" के बारे में जस्टिन ट्रूडो के सामने अपनी गहरी चिंता व्यक्त की थी. इस बीच, कनाडा ने भी हाउस ऑफ कॉमन्स में ट्रूडो के भाषण के बाद एक भारतीय राजनयिक को निष्कासित कर दिया है. कनाडा की विदेश मंत्री मेलानी जोली ने कहा कि देश में भारतीय खुफिया प्रमुख को निष्कासित कर दिया गया है.

कौन था निज्जर?

2022 में जालंधर में एक हिंदू पुजारी की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगने के बाद राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने निज्जर पर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित किया था. कनाडा में रहने वाला निज्जर खालिस्तान टाइगर फोर्स (KTF) का प्रमुख था, जिस संगठन पर पुजारी की हत्या का आरोप था. इससे पहले एनआईए ने भारत के खिलाफ आतंकी वारदातों की साजिश रचने के एक मामले में निज्जर के खिलाफ आरोपपत्र भी दाखिल किया था.