share--v1

टूरिस्ट फिर कर सकेंगे एफिल टॉवर का दीदार, जानें क्यों किया गया था बंद

Paris News: एफिल टॉवर का प्रबंधन करने वाली कंपनी ने जानकारी दी है कि ट्रेड यूनियनों द्वारा की जा रही मांगों पर गौर किया गया है. सैलानी रविवार से एफिल टॉवर का दीदार कर सकेंगे.

auth-image
India Daily Live

Paris News: फ्रांस की राजधानी पेरिस में स्थित एफिल टॉवर का पर्यटक फिर से दीदार कर सकेंगे. टॉवर का प्रबंधन करने वाली कंपनी SETE ने जानकारी देते हुए कहा कि पर्यटक रविवार से इस साइट का लुत्फ उठा सकेंगे. ट्रेड यूनियनों के लोग कंपनी के कामकाज और प्रबंधन को लेकर हड़ताल कर रहे थे. कंपनी ने बताया कि ट्रेड यूनियनों और उनके बीच समझौता हुआ है. समझौते के तहत कंपनी के रेवेन्यू मॉडल, मेंटिनेंस कॉस्ट और सेल्स को हर छह महीनों में रिव्यू किया जाएगा.  कंपनी ने आगे यह भी कहा कि जिन लोगों ने 19 से 24 फरवरी के बीच टिकटों की खरीद की उन्हें उसका रिफंड मिलेगा. 

ट्रेड यूनियन कर रहे थे हड़ताल 

ताजा फैसला समर ओलंपिक के आलोक में आया है जिसमें विजेताओं को दिए जाने वाले मेडल्स में एफिल टॉवर की धातु का इस्तेमाल होगा.  एफिल टॉवर पर काम करने वाले कर्मचारी कंपनी के प्रबंधन तरीके में विरोध के कारण 19 फरवरी को हड़ताल पर चले गए थे. कर्मचारियों ने आरोप लगाया कि कंपनी पर्यटकों की संख्या को बढ़ा चढ़ाकर पेश करती है और मेंटिनेंस, रिपेयर लागत में कटौती करती है.  ट्रेड यूनियन ने आगे यह भी आरोप लगाया कि सिटी हाल एफिल टॉवर के ऑपरेटर से तय शुदा राशि से अधिक की वसूली करता है. इससे टॉवर के रखरखाव और प्रबंधन के लिए जरूरी फंड में कमी आती है. 

टिकटों का बढ़ाया गया मूल्य 

एफिल टॉवर के प्रबंधनकर्ता कंपनी SETE ने कहा कि इन तथ्यों को ध्यान में रखते हुए टिकट कीमतों में 20 फीसदी की बढ़ोत्तरी की गई है. एफिल टॉवर के शिखर पर जाने के लिए लिफ्ट का प्रयोग करने वाले लोगों के लिए टिकट का प्राइस ज्यादा है. इसकी कीमत लगभग 31 डॉलर के करीब है. वहीं, सीढ़ियों का इस्तेमाल करने वाले लोगों के लिए टिकट के कम दाम हैं. 

कोरोना महामारी में हुआ था नुकसान 

फ्रांस के सांस्कृतिक मंत्री रचिदा दाती ने गुरुवार को कहा कि एफिल टॉवर देश की प्रमुख सांस्कृतिक और ऐतिहासिक इमारत है. इससे राज्य को राजस्व का एक बड़ा हिस्सा प्राप्त होता है. कोरोना महामारी  के समय एफिल टॉवर को 130 मिलियन डॉलर राजस्व का नुकसान हुआ था. 


 

Also Read