menu-icon
India Daily
share--v1

चीन की नापाक चाल जारी, हिंद महासागर में उतरा ड्रैगन का जासूसी जहाज, इस पर श्रीलंका का रुख जान हो जाएंगे हैरान

China Srilanka Ship: चीन का जासूसी जहाज शि यान 6 हिंद महासागर में दाखिल हो चुका है. यह जानकारी श्रीलंका की ओर से साझा की गई है.

auth-image
Shubhank Agnihotri
चीन की नापाक चाल जारी, हिंद महासागर में उतरा ड्रैगन का जासूसी जहाज,  इस पर श्रीलंका का रुख जान हो जाएंगे हैरान

China Ship Indian Ocean: चीन अपनी नापाक चालों और जासूसी हथकंडों के कारण पूरी दुनिया में बदनाम है.  श्रीलंका की ओर से साझा की गई जानकारी के मुताबिक, चीन का एक पॉवरफुल स्पाइंग शिप यानी जासूसी जहाज शी यान 6 हिंद महासागर में प्रवेश कर चुका है और धीरे-धीरे भारत की ओर बढ़ रहा है.


श्रीलंका की ओर बढ़ रहा

रिपोर्ट के मुताबिक, यह शिप हिंद महासागर ते बीचो-बीच 90 डिग्री पूर्वी देशांतर पर है और श्रीलंका की ओर बढ़ रहा है. आपको बता दें कि इससे पहले 2019 से लगभग 48 चीनी वैज्ञानिक अनुसंधान जहाजों को हिंद महासागर क्षेत्र में तैनात किया गया है. इन जहाजों की तैनाती का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी और दक्षिण के साथ-साथ फारस की खाड़ी और अरब सागर का क्षेत्र है.


शि यान कथित जासूसी जहाज

चीन का शी यान 6 एक रिसर्च शिप है. चीन इसके बारे में कहता है कि यह शिप राष्ट्रीय जलीय संसाधन और विकास एजेंसी ( NRA) के साथ रिसर्च करता है. रिपोर्ट के मुताबिक, यह चीन का एक जासूसी जहाज है. चीन का यह जहाज उसकी 13वीं पंचवर्षीय योजना का प्रमुख हिस्सा है. इस जहाज ने 2022 में पूर्वी हिंद महासागर में अपनी पहली सफलतापूर्वक यात्रा की थी.


भारत की सुरक्षा चिंताएं हमारे लिए अहम


श्रीलंका के विदेश मंत्री अली साबरी ने मंगलवार को कहा था कि चीन के इस जहाज को भारत की सुरक्षा चिंताओं को ध्यान में रखते हुए श्रीलंका की ओर आने की अनुमति नहीं दी गई है. साबरी ने कहा था कि श्रीलंका के लिए भारतीय सुरक्षा चिंताएं बेहद महत्वपूर्ण हैं. इसके बाद उन्होंने कहा कि हम चीन के साथ एसओपी प्रक्रिया को मानने को लेकर बातचीत कर रहे हैं. यदि वह इन्हें मानता है तो हमें कोई परेशानी नहीं होगी. एसओपी को श्रीलंका ने भारत और अन्य देशों के साथ मिलकर बनाया है.

यह भी पढेंः India Canada Ties: भारत कनाडा विवाद कैसे बिगाड़ सकता है आपकी थाली का स्वाद, जानिए!