menu-icon
India Daily
share--v1

इश्चिक वैक्सीन के सिंगल डोज से होगा चिकनगुनिया का खात्मा, अमेरिका ने पहली वैक्सीन को दी मंजूरी

Chikungunya Vaccine: चिकनगुनिया के लिए दुनिया के पहले वैक्सिन को मंजूरी दी जा चुकी है. अमेरिकी स्वास्थ्य अधिकारियों ने इस टीके को मंजूरी दी है.

auth-image
Purushottam Kumar
इश्चिक वैक्सीन के सिंगल डोज से होगा चिकनगुनिया का खात्मा, अमेरिका ने पहली वैक्सीन को दी मंजूरी

Chikungunya Vaccine: चिकनगुनिया के लिए दुनिया के पहले वैक्सिन को मंजूरी दी जा चुकी है. अमेरिकी स्वास्थ्य अधिकारियों ने इस टीके को मंजूरी दी है. संक्रमित मच्छरों से फैलने वाले चिकनगुनिया को वैश्विक स्वास्थ्य का खतरा बताया गया है. FDA की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि यूरोप के वलनेवा ने वैक्सीन को तैयार किया है. इस वैक्सीन का नाम इक्स्चिक रखा गया है और 18 साल और उससे अधिक उम्र वाले लोगों को यह वैक्सिन दिया जाएगा.

क्या है चिकनगुनिया वायरस

दरअसल, चिकनगुनिया एक तरह का बुखार है, जो गंभीर जोड़ों के दर्द का कारण होता है. चिकनगुनिया वायरस मुख्य तौर से अफ्रीका, दक्षिण पूर्व एशिया और अमेरिका के कुछ हिस्सों में सबसे ज्यादा फैला हुआ है. अमेरिकी दवा रेगुलारिटी (FDA) ने बताया कि पिछले 15 वर्षों में चिकनगुनिया के 50 लाख से ज्यादा केस दर्ज किए गए हैं. FDA के वरिष्ठ अधिकारी पीटर मार्क्स के अनुसार चिकनगुनिया वायरस के चपेट में आने से गंभीर बीमारी हो सकती हैं.

ये भी पढ़ें: अमेरिका ने इजरायल भिजवाया हथियारों का बड़ा जखीरा, 123 कार्गो प्लेन और 7 शीप से पहुंचा हथियार

3,500 लोगों पर क्लिनिकल टेस्ट

गौरतलब है कि उत्तरी अमेरिका में 3,500 लोगों पर दो क्लिनिकल टेस्ट किए गए. हालांकि, इस वैक्सीन को लगाए जाने के बाद लोगों में सिरदर्द, थकान, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द, बुखार कम हो गया. टेस्ट के दौरान Ixchiq वैक्सीन लेने वाले लोगों में से 1.6 फीसदी लोगों में गंभीर प्रतिक्रिया दर्ज की गई. इनमें से दो लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया.