menu-icon
India Daily
share--v1

कनाडा के इलेक्शन में सामने आया चीन कनेक्शन, खुफिया रिपोर्ट ने बढ़ाई ट्रूडो की टेंशन

Canada News: कनाडा के चुनाव प्रक्रिया में चीनी हस्तक्षेप को लेकर एक रिपोर्ट सामने आई है. इस रिपोर्ट में प्रधानमंत्री जस्टिमन ट्रूडो की चीनी हस्तक्षेप को नियंत्रित न करने पर आलोचना की गई है.

auth-image
India Daily Live
Canada China

Canada News: कनाडा के आम चुनावों में चीन के दखल को लेकर घरेलू खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट ने प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. खुफिया एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में मजबूत सबूत देते हुए कहा कि चीन ने पिछले दो चुनावों में हस्तक्षेप किया है.  कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो की लिबरल पार्टी ने 2019 और 2021 के चुनावों में जीत हासिल की है. एजेंसी द्वारा सोमवार को पेश किए गए यह सबूत आधिकारिक गवाही पर आधारित थे. 

कनाडा के चुनाव में चीनी दखल पर सामने आई मीडिया रिपोर्टों के आधार पर विपक्षी दलों के विधायकों ने पीएम जस्टिस ट्रूडो से विदेशी हस्तक्षेप की जांच के लिए एक आयोग बनाने की मांग की थी. आयोग ने सोमवार को कैनेडियन सिक्योरिटी इंटेलीजेंस सर्विसेज ( CSIS) की  रिपोर्ट के छोटे अंश को आधार बनाकर सबूत पेश किए. 

खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, ' हमें बीते दो चुनावों में पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना (PRC) के दखल देने के प्रमाण मिले हैं. चीन ने भ्रामक औक गुप्त तरीके से कनाडाई चुनाव प्रक्रिया में घुसपैठ की.  बीजिंग ने 2019 और 2021 के चुनावों में ऐसे उम्मीदवारों का समर्थन करने की कोशिश की जो पीआरसी के समर्थक हों या तटस्थ हों.'

चीन द्वारा कनाडाई चुनावी प्रक्रिया के दखल के बारे में सबसे पहले जानकारी ग्लोबल न्यूज ने दी थी. हालांकि बीजिंग ने किसी तरह के हस्तक्षेप से इंकार किया है. 2021 में चुनाव अभियान में कंजर्वेटिव पार्टी का नेतृ्त्व करने वाले विपक्षी नेता एरिन ओ टूल ने चीनी हस्तक्षेप का आरोप लगाते हुए कहा था कि उनकी पार्टी को लगभग नौ सीटों का नुकसान उठना पड़ सकता है.  खफिया मामलों के जानकार और कंजर्वेटिव पार्टी ने प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो पर निशाना साधा है. उनका कहना है कि ट्रूडो ने चीनी हस्तक्षेप को रोकने के लिए उचित प्रयास नहीं किए. बुधवार को ट्रूडो आयोग के सामने इस मामले पर गवाही देने के लिए पेश होंगे.