menu-icon
India Daily
share--v1

कनाडा की विदेश मंत्री ने भारतीय राजनयिक को किया निष्कासित, जानें क्या है पूरा मामला

Indian Diplomat In Canada: कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने बीते दिनों सिख नेता हरदीप सिंह निज्जर की हत्या को लेकर एक बड़ा दावा किया था. इस दावा के बाद कनाडा की विदेश मंत्री मेलानी जोली ने भारत के एक शीर्ष राजनयिक को निष्कासित कर दिया है.

auth-image
Purushottam Kumar
कनाडा की विदेश मंत्री ने भारतीय राजनयिक को किया निष्कासित, जानें क्या है पूरा मामला

Indian Diplomat In Canada: कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने बीते दिनों सिख नेता हरदीप सिंह निज्जर की हत्या को लेकर एक बड़ा दावा किया था. सिख नेता हरदीप सिंह निज्जर हत्याकांड ने निज्जर की हत्या के पीछे भारत सरकार की  साजिश होने का दावा किया था. पीएम के इस दावा के बाद कनाडा की विदेश मंत्री मेलानी जोली ने भारत के एक शीर्ष राजनयिक को निष्कासित कर दिया. विदेश मंत्री मेलानी जोली ने कहा कि इस मामले को हमारे प्रधानमंत्री अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडेन के  समक्ष भी उठा चुके हैं.

जानिए कौन था हरदीप सिंह निज्जर

भारतीय जांच एजेंसी एनआईए ने हरदीप सिंह निज्जर को भगोड़ा घोषित किया था. निज्जर कनाडा का एक प्रमुख खालिस्तानी नेता है जिसकी हत्या जून में कनाडा के सरे में स्थित गुरु नानक सिख गुरुद्वारे के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. आपको बता दें, निज्जर गुरु नानक सिख गुरुद्वारे का अध्यक्ष था और कनाडा में सिख फॉर जस्टिस का प्रमुख चेहरा था.

ये भी पढ़ें: Pakistan: पाकिस्तान में खुलेगा भगत सिंह की सजा का मामला? कोर्ट में हुई सुनवाई, जानें कोर्ट ने क्या कहा

भारत सरकार पर कनाडा के PM का आरोप

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो यह आरोप लगाया है कि निज्जर के पीछे भारत सरकार का हाथ हो सकता है. उन्होंने कहा कि कनाडाई एजेंसियां निज्जर हत्याकांड में भारत की साजिश की संभावनाओं को लेकर जांच कर रही हैं. प्रधानमंत्री ट्रूडो ने कहा कि हत्याकांड में किसी भी तरह की संलिप्तता स्वीकार नहीं किया जाएगा. कनाडा की विदेश मंत्री मेलानी जोली ने कहा कनाडा के पीएम ट्रूडो ने इस मुद्दे को अमेरिकी राष्ट्रपति बाइडन के सामने भी उठाया है.

‘कनाडाई समुदाय के लोग गुस्से में हैं’

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो कहा कि मैं जानता हूं कि निज्जर हत्याकांड को लेकर कनाडाई नागरिक गुस्से में हैं, डरे हुए हैं. उन्होंने कहा कि हमें बदलने को मजबूर मत कीजिए, हमें शांति से रहने दीजिए जो हमारी पहचान है. उन्होंने आगे कहा कि कनाडा की इस हत्याकांड में सुरक्षा एजेंसियां भारत सरकार और निज्जर हत्याकांड के बीच की संभावित कड़ी के आरोपों को लेकर जांच कर रही है.

ये भी पढ़ें: 65 साल पहले लापता हुए परमाणु बम की कहानी जिसकी वजह से आज तक सहमा हुआ है अमेरिका