menu-icon
India Daily
share--v1

'भारत बढ़ती हुई ताकत, चाहते हैं...', जस्टिन ट्रूडो को हुआ अपनी गलती का अहसास

भारत से चल रहे विवाद के बीच कनाडा के प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा कि भारत एक बड़ी इकोनॉमी वाला देश है और दुनिया में उसका में प्रभाव बढ़ रहा है. इसलिए हमारे लिए भारत के साथ संबंध रखना बेहद जरुरी है.

auth-image
Gyanendra Sharma
'भारत बढ़ती हुई ताकत, चाहते हैं...', जस्टिन ट्रूडो को हुआ अपनी गलती का अहसास

नई दिल्ली: भारत से चल रहे विवाद के बीच कनाडा के प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा कि खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में भारत सरकार की संलिप्तता के विश्वसनीय आरोपों के बावजूद, कनाडा अभी भी भारत के साथ घनिष्ठ संबंध बनाने के लिए प्रतिबद्ध है.

जस्टिन ट्रूडो ने कहा-भारत एक बड़ी इकोनॉमी वाला देश है और दुनिया उसका में प्रभाव बढ़ रहा है. इसलिए हमारे लिए भारत के साथ संबंध रखना बेहद जरुरी है. गुरुवार को मॉन्ट्रियल में एक संवाददाता सम्मेलन में बोलते हुए, ट्रूडो ने कहा कि उन्हें लगता है कि यह "बेहद महत्वपूर्ण" है कि कनाडा और उसके सहयोगी विश्व मंच पर भारत के बढ़ते महत्व को देखते हुए उसके साथ गंभीरता से जुड़ते रहें.

भारत की बढ़ती आर्थिक शक्ति

ट्रूडो ने कहा- भारत एक बढ़ती आर्थिक शक्ति और महत्वपूर्ण भू-राजनीतिक प्लेयर है. हमने पिछले साल अपनी इंडो-पैसिफिक रणनीति प्रस्तुत की थी, हम भारत के साथ घनिष्ठ संबंध बनाने को लेकर बहुत गंभीर हैं. ट्रूडो ने कहा कि उन्हें अमेरिका से आश्वासन मिला है कि विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन गुरुवार को वाशिंगटन डीसी में अपने भारतीय समकक्ष एस जयशंकर के साथ बैठक के दौरान निज्जर की हत्या में भारत की भूमिका के बारे में सार्वजनिक रूप से लगाए गए आरोपों को उठाएंगे.

अमेरिका भारत सरकार से बात कर रहा है

नेशनल पोस्ट ने ट्रूडो के हवाले से कहा कि अमेरिका भारत सरकार से बात करने में हमारे साथ रहा है. यह कुछ ऐसा है जिसे सभी लोकतांत्रिक देशों, कानून के शासन का सम्मान करने वाले  देशों को गंभीरता से लेने की आवश्यकता है. हम भारत सरकार के प्रति अपने दृष्टिकोण सहित अपने सभी साझेदारों के साथ कानून के शासन में रहते हुए एक विचारशील, जिम्मेदार तरीके से आगे बढ़ रहे हैं.

निज्जर पर बयान से बढ़ा तनाव

ट्रूडो ने 18 सितंबर को कनाडाई हाउस ऑफ कॉमन्स को बताया था कि कनाडाई सुरक्षा एजेंसियां को निज्जर की हत्या में भारत सरकार के एजेंटों के संलिप्त होने के सबूत मिले हैं. उन्होंने यह भी कहा कि उन्होंने जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान उन्होंने इस मुद्दे को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी तक पहुंचाया था और भारत के शीर्ष खुफिया और सुरक्षा अधिकारियों को कनाडा की गहरी चिंताओं के बारे में सूचित किया गया था.

भारत ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

हालांकि भारत ने ट्रूडो के आरोपों को खारीज कर दिया. भारत ने इसे बेतूका और प्रेरित बताया. पीएम ट्रूडो ने अभी तक हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के दावे का समर्थन करने के लिए कोई सार्वजनिक सबूत नहीं दिया है. दूसरी ओर  ट्रूडो की टिप्पणियों से देशों के बीच पहले से ही तनावपूर्ण संबंध और भी खराब हो गए. हत्या में भारतीय संलिप्तता के कनाडाई प्रधानमंत्री ट्रूडो के आरोपों के बाद भारत ने कनाडा में अपनी वीज़ा सेवाएं निलंबित कर दी हैं.