share--v1

पुतिन के खास लुकाशेंको का एलान, 2025 में भी संभालेंगे देश की कमान 

Belarus Presidnet Election: बेलारूस के वर्तमान राष्ट्रपति लुकाशेंको ने कहा कि वह अगले साल होने वाले चुनावों में अपनी दावेदारी पेश करेंगे और फिर से देश की कमान संभालेंगे.

auth-image
India Daily Live

Belarus Presidnet Election: बेलारूस की सत्ता पर दशकों से काबिज और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सबसे खास लोगों में से एक एलेक्जेंडर लुकाशेंकों ने एलान किया है कि वह 2025 में भी देश की कमान संभालेंगें. बेलारूस की समाचार एजेंसी बेल्टा से रविवार को बात करते हुए उन्होंने एलान किया कि वह अगले साल होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में देश का नेतृत्व करेंगे. 

चुनावों में पेश करेंगे अपनी दावेदारी 

समाचार एजेंसी से बात करते हुए बेलारूसी नेता ने इस दौरान निर्वासित विपक्षी नेता पर भी निशााना साधा. स्थानीय चुनाव के दौरान पत्रकारों से बात करते हुए लुकाशेंको ने कहा कि मैं विपक्ष को बता दूं कि 2025 के चुनाव में भी वह अपनी दावेदारी पेश करेंगे. कोई भी जिम्मेदार नेता अपने लोगों को पीछे और अकेले नहीं छोड़ सकता है जिन्होंने लंबे समय तक अपने नेता का साथ दिया है. 

विपक्षी नेता ने किया बहिष्कार का आग्रह 

रिपोर्ट के अनुसार, बेलारूस के विपक्षी नेता स्वियातलाना त्सिखानौस्काया, जो 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में लुकाशेंको को चुनौती दी थी. उन्होंने एक वीडियो मैसेज में बेलारूसी लोगों से चुनाव के बहिष्कार का आग्रह किया है, इसके जवाब में लुकाशेंको ने यह बातें कही हैं.  स्वियातलाना फिलहाल लिथुआनिया में निर्वासित जीवन जी रहे हैं. 

कब होंगे अगले चुनाव? 

प्रेस से वार्ता करते हुए उन्होंने कहा कि देश में एक साल के भीतर चुनाव होने हैं. एक साल लंबा समय होता है इस दौरान तमाम तरह के परिवर्तन होंगे. आगामी चुनाव में हम सब मिलकर एक बेहतक समाजिक और न्यायिक तंत्र का गठन करेंगे जहां सबके लिए बराबरी के अवसर मौजूद हों. बेलारूसी संविधान के मुताबिक हर पांच साल में राष्ट्रपति का चुनाव होता है. इसी क़ड़ी के अंतर्गत 2025 में राष्ट्रपति का चुनाव होना प्रस्तावित है. 

पुतिन के सबसे करीबी लोगों में से एक 

बेलारूसी समाचार एजेंसी बेल्टा के अनुसार, 69 वर्षीय एलेक्जेंडर लुकाशेंको 1994 से सत्ता संभाल रहे हैं. उन्हें रूसी राष्ट्रपति के सबसे पसंदीदा लोगों में से एक माना जाता है. रूस-यूक्रेन युद्ध में उन्होंने मॉस्को का खुलकर समर्थन किया और रूस को अपनी सीमाओं का इस्तेमाल करने तक की इजाजत दे दी. 

Also Read

First Published : 25 February 2024, 04:48 PM IST