share--v1

कौन हैं हेमंत सोरेन को गिरफ्तार करने वाले ED के वो चार अधिकारी?

जमीन घोटाले मामले में हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी को लेकर देश की सियासत में हलचल तेज है. ऐसे में हम उन चार अधिकारियों के बारे में बताएंगे जिन्होंने हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी को अंजाम दिया.

auth-image
Avinash Kumar Singh
फॉलो करें:

नई दिल्ली: जमीन घोटाले मामले में हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी को लेकर सियासत अपने परवान चढ़ी है. हेमंत सोरेन देश के ऐसे पहले मुख्यमंत्री हैं, जिन्हें CM पद पर रहते हुए ED ने गिरफ्तार किया. ED की गिरफ्तारी के खिलाफ हेमंत सोरेन की ओर से दायर याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया. वहीं रांची की एक स्पेशल कोर्ट ने हेमंत सोरेन को पांच दिन की ईडी की रिमांड पर भेजा है. अब ED की टीम हेमंत सोरेन से आगे की पूछताछ करेगी. हेमंत की गिरफ्तारी के पीछे ईडी के ये 4 अधिकारी इन दिनों चर्चा में है. 

जानें वो ED के चार अधिकारी, जिन्होंने सोरेन की गिरफ्तारी को दिया अंजाम 

1- कपिल राज- ईडी के अधिकारी कपिल राज मौजूदा समय में ED रांची जोन के एडिशनल डायरेक्टर हैं. राज की ही देखरेख में झारखंड में अवैध खनन घोटाला, जमीन घोटाला और विधायक नकद घोटाला सहित कई हाई-प्रोफाइल मामलों की जांच जारी है. 
हाल ही में वित्त मंत्रालय ने कपिल राज का कार्यकाल एक साल के लिए बढ़ाया था. साल 2009 बैच के आईआरएस अधिकारी कपिल राज सितंबर 2023 में ईडी के अतिरिक्त निदेशक बने थे. झारखंड में उनका कार्यकाल दिसंबर 2024 तक है. कपिल राज बंगाल में भी अपनी सेवाएं दे चुके है. 

2- देवव्रत झा- जमीन घोटाले मामले में हेमंत सोरेन के खिलाफ जो जांच चल रही है. उसमें ED के अधिकारी देवव्रत झा बड़ी भूमिका निभा रहे है. देवव्रत झा उस केस के इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर (आईओ) हैं. देवव्रत झा मौजूदा समय में ED के सहायक निदेशक हैं. कई बड़े मामलों के जांच से जुड़े होने की वजह से नवंबर 2023 में झा को एक्स श्रेणी की सुरक्षा मिली थी. देवव्रत झा झारखंड से पहले बंगाल में पदस्थापित थे. वहां भी उन्होंने कई बड़े भ्रष्टाचार की जांच को अंजाम दिया है. 

3- अनुपम कुमार- हेमंत सोरेन को गिरफ्तार को अंजाम देने वाले शख्स का नाम अनुपम कुमार हैं. अनुपम कुमार प्रवर्तक अधिकारी हैं और वह झारखंड में तैनात है. अनुपम 2022 में ईडी के रांची जोन में आए थे तब से वे झारखंड के कई मामलों की जांच में शामिल हैं. कुमार झारखंड से पहले बिहार और ओडिशा में पदस्थापित रह चुके हैं. इस दौरान भी वह कई बड़े जांच में शामिल रहे. हेमंत सोरेन ने जिन ED अधिकारियों के खिलाफ जो एफआईआर दर्ज कराया था. उनमें कपिल राज, देवव्रत झा, अनुपम कुमार,अमन पटेल समेत कई अधिकारियों और जांच से जुड़े हुए लोगों का नाम रहा. इनके खिलाफ सोरेन ने 31जनवरी को एसटी एससी थाना में मामला दर्ज कराया है. 

4- अमन पटेल- अमन पटेल मौजूदा वक्त में ED के रांची टीम में सहायक अधिकारी के पद पर कार्यरत हैं. ईडी अधिकारियों में पटेल की छवि तेजतर्रार और युवा अफसर के तौर पर होती रही है. जमीन घोटाले मामले की जांच में पटेल की चर्चा सुर्खियों में रही. पटेल ने हेमंत सोरेन के प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को भी गिरफ्तार करने में अहम भूमिका निभाई थी.

Also Read

First Published : 03 February 2024, 11:12 AM IST