menu-icon
India Daily
share--v1

Delhi-NCR वाले सावधान! IMD का अलर्ट- पूरे उत्तर भारत में अभी और गिरेगा तापमान

आईएमडी ने सोमवार को भी उत्तर पश्चिम भारत और पूर्वी भारत के मैदानी इलाकों के कुछ हिस्सों में घने से बहुत घने कोहरे की भविष्यवाणी की थी, जो बांग्लादेश के कुछ हिस्सों तक फैलेगा और उसके बाद धीरे-धीरे कम होगा.

auth-image
Naresh Chaudhary
Weather Update, North India Weather Update, Delhi-NCR Weather, Aaj ka Mausam, IMD, Cold Wave

हाइलाइट्स

  • पंजाब, हरियाणा समेत कई राज्यों में रहेगी कोल्ड-डे की स्थिति
  • आईएमडी के निदेशक ने बताया सर्दी बढ़ने का क्या है कारण

Weather Update Delhi NCR: दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे उत्तर भारत में सर्दी का सितम अपने चरम पर है. ऐसे में भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने सोमवार को जारी किए अलर्ट ने लोगों के होश उड़ा दिए हैं. इसमें कहा गया है कि 5 से 11 जनवरी के बीच रात और दिन के तापमान में और गिरावट होने की आशंका है, जिससे उत्तर भारत के कई राज्यों में शीत लहर की स्थिति बन सकती है.

इन राज्यों में रहेगी कोल्ड डे की स्थिति

आईएमडी के महानिदेशक डॉ मृत्युंजय महापात्र ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया है कि 5 से 11 जनवरी तक रात के तापमान में गिरावट की उम्मीद है. इससे मध्य भारत के कुछ हिस्सों में भी शीत लहर की स्थिति पैदा हो सकती है. वहीं दिन का तापमान भी सामान्य से नीचे रहेगा, जिससे विशेष रूप से मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र के उत्तरी हिस्सों, उत्तर प्रदेश के दक्षिणी हिस्सों, हरियाणा और राजस्थान में कोल्ड डे की स्थिति रहेगी. 

आईएमडी निदेशक ने बताया सर्दी बढ़ने का क्या है कारण

उन्होंने कहा कि दक्षिण-पूर्व अरब सागर के ऊपर भी कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है, जिससे लक्षद्वीप और मालदीव द्वीप समूह के इलाकों में बादल छाए हुए हैं. आईएमडी ने अगले तीन दिनों के दौरान लक्षद्वीप में भारी बारिश की भी चेतावनी जारी की है. साथ ही 40-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने की आशंका है. मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है.

सोमवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जनवरी के मासिक पूर्वानुमान की रूपरेखा तैयार करते हुए महापात्र ने जनवरी, फरवरी और मार्च में सामान्य वर्षा की भविष्यवाणी की है.

1901 के बाद साल 2023 रहा सबसे गर्म वर्ष

पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार महापात्र ने इस बात पर जोर दिया कि साल 2023, 1901 के बाद से दूसरा सबसे गर्म साल रहा, जिसमें देश का वार्षिक औसत वायु तापमान सामान्य से 0.65 डिग्री सेल्सियस ज्यादा था. साल 1901 के बाद से सबसे गर्म वर्ष 2016 था, जब देश का वार्षिक औसत हवा का तापमान सामान्य से 0.710 डिग्री सेल्सियस ज्यादा था.

उन्होंने बताया कि देश के अधिकांश हिस्सों में सुबह अपेक्षाकृत गर्म रहने का अनुमान है. इसके अलावा मध्य और उत्तर-पश्चिमी क्षेत्रों में ठंडे दिन रहने की उम्मीद है. मौसम कार्यालय का पूर्वानुमान है कि इन क्षेत्रों में मासिक अधिकतम तापमान सामान्य से कम रहेगा.

देश के इन राज्यों में होगा घने से घना कोहरा

दक्षिण प्रायद्वीपीय और उत्तरपूर्वी भारत में गर्म दिनों का अनुमान है, जबकि जनवरी में सामान्य से ज्यादा मासिक अधिकतम तापमान बने रहने की उम्मीद है. आईएमडी ने इससे पहले सोमवार को भी उत्तर पश्चिम भारत और पूर्वी भारत के मैदानी इलाकों के कुछ हिस्सों में घने से बहुत घने कोहरे की भविष्यवाणी की थी, जो बांग्लादेश के कुछ हिस्सों तक फैलेगा और उसके बाद धीरे-धीरे कम होगा.

इसके अलावा मौसम कार्यालय ने कहा है कि अगले दो दिनों तक पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान के कुछ इलाकों में कोल्ड-डे से लेकर गंभीर कोल्ड-डे की स्थिति बनी रहने की आशंका है.