share--v1

सपा ने कांग्रेस की बढ़ाई टेंशन! क्या अखिलेश के इस कदम से गठबंधन में छिड़ेगी रार?

16 लोकसभा सीटों पर उम्मीदवारों के नामों के ऐलान के बाद सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने मिर्जापुर लोकसभा सीट पर नरेश उत्तम पटेल और वाराणसी सीट पर सुरेंद्र सिंह पटेल को प्रभारी नियुक्त किया है.

auth-image
Avinash Kumar Singh
फॉलो करें:

नई दिल्ली: आगामी 2024 लोकसभा चुनाव के मद्देनजर समाजावादी पार्टी एक्शन मोड में है. 16 लोकसभा सीटों के लिए उम्मीदवारों की सूची जारी करने के बाद सपा ने दो लोकसभा सीटों पर प्रभारी नियुक्त किया है. सपा की ओर से जारी एक आदेश में यूपी सपा प्रदेश इकाई के अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल को मिर्जापुर लोकसभा सीट और सुरेंद्र सिंह पटेल को वाराणसी सीट का प्रभारी नामित किया गया है.

सपा के इस सियासी कदम के बाद माना जा रहा है कि पार्टी नरेश उत्तम पटेल को मीरजापुर सीट और सुरेंद्र सिंह पटेल को वाराणसी सीट से मैदान में उतार सकती है. मीरजापुर लोकसभा सीट से फिलहाल मोदी सरकार की मंत्री अनुप्रिया पटेल सांसद हैं. वह अपना दल एस के टिकट पर मीरजापुर लोकसभा सीट से 2014 और 2019 में सांसद चुनी गई थी. वहीं सुरेंद्र सिंह पटेल को सपा वाराणसी लोकसभा सीट से उम्मीदवार घोषित कर सकती है.  

सपा ने कांग्रेस की बढ़ाई टेंशन

इससे पहले सपा ने 16 सीटों पर अपने प्रत्याशियों का एलान किया है. सपा प्रमुख अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव अपनी मौजूदा लोकसभा सीट मैनपुरी से चुनावी किस्मत आजमाएगी. वहीं फिरोजाबाद से अक्षय यादव, बदांयू से धर्मेंद्र यादव, खीरी से उत्कर्ष वर्मा, धौरहरा से आनंद भदौरिया, उन्नाव से अनु टंडन का समेत 16 नेताओं को चुनावी मैदान में उतारा गया है. ऐसे में अब सपा ने 2 हाई प्रोफाइल लोकसभा सीटों पर प्रभारी नियुक्त करके कांग्रेस की टेंशन बढ़ा दी है.

सपा के प्रस्ताव से कांग्रेस का इनकार 

सूत्रों का दावा है कि कांग्रेस पार्टी सपा के इस प्रस्ताव पर गंभीरता से विचार करते हुए अपने लिए और अधिक लोकसभा की सीटों चाहती है. अगर सबकुछ सही दिशा में नहीं रहा तो आने वाले दिनों में बंगाल,पंजाब और बिहार की तरह यूपी में भी इंडिया गठबंधन के बीच दरार देखने को मिल सकती है. 

First Published : 03 February 2024, 01:48 PM IST