share--v1

रामलीला नाटक में फूंका सिगरेट, पुणे विश्वविद्यालय के प्रोफेसर और छात्र अरेस्ट

नाटक का एक दृश्य सोशल मीडिया पर वायरल है. इसमें सीता की वेशभूषा में एक पुरुष अभिनेता को सिगरेट पीते हुए भी दिखाया गया है.

auth-image
Gyanendra Sharma
फॉलो करें:

पुणे: रामायण पर आधारित एक नाटक का मंचन करके धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोप में पुणे विश्वविद्यालय के एक प्रोफेसर और पांच छात्रों को शनिवार को गिरफ्तार किया गया. बताया जा रहा है कि नाटक में आपत्तिजनक संवाद और दृश्य थे. इसमें सीता की वेशभूषा में एक पुरुष अभिनेता को सिगरेट पीते हुए भी दिखाया गया है.

इस नाटक का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है. नाटक का मंचन करने के विरोध में ABVP ने पुणे के सावित्रीबाई फुले विश्वविद्यालय में प्रदर्शन किया. जिसके बाद इस मामले में दोनों पक्षों की तरफ से शिकायत दी गई है. माता सीता के साथ दिखाए गए इस अभद्रतता पूर्ण व्यवहार का वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा देखने को मिल रहा है.

 

ABVP ने दर्ज कराई शिकायत

पुलिस निरीक्षक अंकुश चिंतामन ने कहा कि एबीवीपी के हर्षवर्द्धन हरपुडे की शिकायत के आधार पर भारतीय दंड संहिता की धारा 295 (ए) और अन्य प्रासंगिक प्रावधानों के तहत मामला दर्ज किया गया है.  एफआईआर के अनुसार, नाटक में सीता की भूमिका निभा रहे एक पुरुष अभिनेता को धूम्रपान करते और आपत्तिजनक भाषा का उपयोग करते हुए दिखाया गया है. प्रथम सूचना रिपोर्ट (एफआईआर) के अनुसार, जब एबीवीपी के सदस्यों ने नाटक पर आपत्ति जताई और प्रदर्शन को रोकने के लिए हस्तक्षेप किया, तो अभिनेताओं ने उनके साथ धक्का-मुक्की और मारपीट की.

प्रोफेसर और छात्र गिरफ्तार

अब इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए ललित कला केंद्र के विभाग प्रमुख डॉ प्रवीण भोले और छात्र भावेश पाटिल, जय पेडनेकर, प्रथमेश सावंत, ऋषिकेश दलवी और यश चिखले को गिरफ्तार किया है.

Also Read

First Published : 03 February 2024, 09:53 PM IST