menu-icon
India Daily
share--v1

'मुस्लिम देशों से इतने अच्छे रिश्ते कभी नहीं थे', कांग्रेस नेता शशि थरूर ने पीएम मोदी की तारीफ में पढ़े कसीदे

Shashi Tharoor praised Narendra Modi: देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने सोमवार को पीएम मोदी की तारीफ में जमकर कसीदे पढ़े.

auth-image
Sagar Bhardwaj
'मुस्लिम देशों से इतने अच्छे रिश्ते कभी नहीं थे', कांग्रेस नेता शशि थरूर ने पीएम मोदी की तारीफ में पढ़े कसीदे

नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने  सोमवार को पीएम मोदी की तारीफ में जमकर कसीदे पढ़े. उन्होंने बीजेपी की सरकार में भारत के इस्लामिक देशों से संबंध बेहतर होने को लेकर पीएम मोदी की सराहना की. शशि थरूर ने कहा कि मोदी सरकार में भारत के इस्लामिक देशों के साथ संबंध बेहतर हुए हैं, उन्होंने केंद्र सरकार की विदेश नीति की भी जमकर तारीफ की.

‘पहले कभी इतने अच्छे नहीं थे इस्लामिक देशों के साथ संबंध’

तिरुवनंतपुरम से कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा कि इस्लामिक देशों के साथ भारत के रिश्ते पहले कभी इतने मजबूत नहीं थे. बता दें कि शशि थरूर कांग्रेस सरकार में विदेश मंत्री रह चुके हैं. शशि थरूर ने कहा, 'विदेश नीति को लेकर मैं मोदी सरकार का आलोचक हुआ करता था लेकिन मुझे लगता है कि उन्होंने हर मोर्चे पर बेहतर ढंग से काम किया है.'

'यह शानदार है इससे बेहतर नहीं हो सकता'

थरूर ने कहा कि मुझे याद है कि पीएम मोदी ने पहले साल में 27 देशों की यात्रा की थी, जिसमें एक भी मुस्लिम देश नहीं था. मैंने इस मुद्दे को उठाया भी था, लेकिन अब मुझे खुशी होती है कि इस्लामिक देशों तक पहुंचने के लिए जो उन्होंने किया है वह शानदार है. यह इससे बेहतर नहीं हो सकता. उन्होंने कहा कि मुस्लिम देशों के साथ हमारे संबंध पहले कभी इतने अच्छे नहीं रहे. आज के माहौल को देखते हुए मैं खुशी से अपनी आलोचनाओं को वापस लेता हूं.

G20 को लेकर भी की मोदी सरकार की तारीफ
शशि थरूर ने G20 को लेकर भी मोदी सरकार की तारीफ की. उन्होंने कहा कि भारत ने अच्छे तरीके से इस मौके का लाभ उठाया है और भारत में विशेष मौजूदगी दर्ज कराई है. थरूर ने कहा कि अब दुनिया भारत को नजरअंदाज नहीं कर सकती. कांग्रेस सांसद ने कहा कि पीएम मोदी की विदेश नीति पहले से बेहतर हुई है.

चीन के मुद्दे पर केंद्र को घेरा
हालांकि थरूर ने चीन को लेकर केंद्र सरकार के रवैए पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने चीन को भारत में घुसपैठ के लिए फ्री पास दे दिया है. चीन को लेकर मोदी सरकार की क्या नीति है इसको लेकर कोई स्पष्टता नहीं है. उन्होंने कहा कि चीन के मुद्दे पर संसद में कोई चर्चा नहीं होती. उन्होंने कहा कि चीनी एप्स पर प्रतिबंध लगाना मोदी सरकार का एक दिखावा था.

यह भी पढ़ें: भोपाल के राजा भोज एयरपोर्ट पर हुई राहुल और सोनिया गांधी की फ्लाइट की इमरजेंसी लैंडिंग