share--v1

खालिस्तान मुद्दे पर ऋषि सुनक की दो टूक, बोले- ब्रिटेन में उग्रवाद या हिंसा स्वीकार्य नहीं

जी20 सम्मेलन के लिए दिल्ली आए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने खालिस्तान मुद्दे पर बड़ा बयान दिया है. ऋषि सुनक कहा कि यूके किसी भी प्रकार का उग्रवाद या हिंसा स्वीकार्य नहीं करेगा.

auth-image
Gyanendra Sharma
Last Updated : 08 September 2023, 06:11 PM IST
फॉलो करें:

नई दिल्ली: जी20 सम्मेलन के लिए दिल्ली आए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने खालिस्तान मुद्दे पर बड़ा बयान दिया है. ऋषि सुनक कहा कि यूके किसी भी प्रकार का  उग्रवाद या हिंसा स्वीकार्य नहीं करेगा. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक अपनी पत्नी अक्षता मूर्ति के साथ नई दिल्ली पहुंचे हैं. उन्हें केंद्रीय राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने रिसीव किया. प्रधानमंत्री बनने के बाद सुनक पहली बार भारत आए हैं.


ऋषि सुनक ने मीडिया से बात करते हुए कहा-  खालिस्तान मुद्दे पर, यूनाइटेड किंगडम के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने ANI से कहा, "यह वास्तव में एक महत्वपूर्ण प्रश्न है और मैं स्पष्ट रूप से कहना चाहता हूं कि यूके में किसी भी प्रकार का उग्रवाद या हिंसा स्वीकार्य नहीं है. इसीलिए हम विशेष रूप से 'PKE' खालिस्तान समर्थक उग्रवाद से निपटने के लिए भारत सरकार के साथ मिलकर काम कर रहे हैं. मुझे नहीं लगता कि यह सही है. हमारे सुरक्षा मंत्री हाल ही में भारत में अपने समकक्षों से बात कर रहे थे. हमारे पास खुफिया जानकारी और जानकारी साझा करने के लिए एक साथ कार्य करने वाले समूह हैं जिससे हम इस तरह के हिंसक उग्रवाद को जड़ से खत्म कर सकें. यह सही नहीं है और मैं इसे यूके में बर्दाश्त नहीं करूंगा.'

यूक्रेन और रूस जंग पर क्या बोले

ब्रिटेन के प्रथानमंत्री ऋषि सुनक ने  कहा, "जब यूक्रेन और रूस की बात आती है - एक चीज जो मैं करूंगा वह उस भयानक प्रभाव को उजागर करना है जो रूस के अवैध आक्रमण से दुनिया भर के लाखों लोगों पर पड़ रहा है, खासकर खाद्य कीमतों पर। रूस हाल ही में अनाज सौदे से पीछे हट गया है। हम यूक्रेन से दुनिया भर के कई गरीब देशों में अनाज भेज रहे हैं और अब आपने देखा है कि खाद्य कीमतें बढ़ गई हैं। जिससे लाखों लोगों को परेशानी हो रही है। यह सही नहीं है। जो काम मैं करूंगा उनमें से एक है लोगों को रूस के अवैध युद्ध के प्रभाव के बारे में जागरूक करना।"

‘G20 भारत के लिए एक बड़ी सफलता रही है’

यूके के प्रथानमंत्री ऋषि सुनक  कहा, "मोदी जी और मैं दोनों हमारे दोनों देशों के बीच एक व्यापक और महत्वाकांक्षी व्यापार समझौते को संपन्न होते देखना चाहते हैं. व्यापार सौदों में हमेशा समय लगता है, उन्हें दोनों देशों के लिए काम करने की आवश्यकता होती है। हालांकि हमने काफी प्रगति की है लेकिन अभी भी कड़ी मेहनत बाकी है। G 20 भारत के लिए एक बड़ी सफलता रही है। भारत इसकी मेजबानी के लिए सही समय पर सही देश है। मुझे लगता है कि हमारे पास कुछ दिनों तक विचार-विमर्श और निर्णय लेने का बहुत अच्छा मौका होगा।"

'मैं एक गौरवान्वित हिंदू हूं'

हिंदू धर्म से अपने जुड़ाव पर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक ने कहा, "मैं एक गौरवान्वित हिंदू हूं और इसी तरह मेरा पालन-पोषण हुआ है, मैं ऐसा ही हूं। मुझे उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों तक मेरे यहां रहने के दौरान मैं किसी मंदिर के दर्शन कर सकूंगा। अभी रक्षा बंधन था जिसमें मेरी बहनों ने मुझे राखी बांधी, मेरे पास दूसरे दिन ठीक से जन्माष्टमी मनाने का समय नहीं था लेकिन उम्मीद है जैसा कि मैंने कहा कि हम अगर किसी मंदिर जाएं तो मैं इसकी भरपाई कर सकूंगा। मेरा मानना है कि आस्था एक ऐसी चीज है जो हर उस व्यक्ति की मदद करती है जो अपने जीवन में आस्था रखता है."