menu-icon
India Daily
share--v1

मणिपुर हिंसा को लेकर राघव चड्ढा ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, पूछा ये बड़ा सवाल

Manipur Hinsa: आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने मणिपुर हिंसा एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला है. राघव चड्ढा का कहना है कि पूरे देश में मणिपुर के विषय को लेकर चर्चा करने की मांग है.

auth-image
Purushottam Kumar
मणिपुर हिंसा को लेकर  राघव चड्ढा ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, पूछा ये बड़ा सवाल

नई दिल्ली: मणिपुर के हालात को लेकर सियासत जारी है, संसद के दोनों सदनों में मणिपुर के हालातों को लेकर विपक्ष सरकार से लगातार सवाल कर रहा है. इसी बीच आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने मणिपुर हिंसा एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला है. आप सांसद राघव चड्ढा ने मणिपुर में खराब कानून व्यवस्था को लेकर चर्चा करने की मांग करते हुए संसद में बिजनेस सस्पेंशन नोटिस दायर किया है.

राघव चड्ढा का कहना है कि पूरे देश में मणिपुर के विषय को लेकर चर्चा करने की मांग है. लोग चाहते हैं कि पीएम मोदी मणिपुर के विषय में अपनी बात रखें और देश को इस बात से अगवत कराएं कि मणिपुर क्यों जल रहा है. राघव चड्ढा ने आगे कहा कि मैं बड़ी जिम्मेदारी कह रहा हूं कि देश के संविधान का अनुच्छेद 355 के अनुसार राज्यों की रक्षा करना केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है. अगर राज्यों के भीतर कोई अंदरूनी लड़ाई-झगड़े को लेकर दो कम्युनिटी के बीच लड़ाई है तब भी यह केंद्र सरकार की जिम्मेदारी है कि वह राज्यों में पीस हार्मनी रिस्टोर करें.

'355 लागू करने में सरकार फेल'
राघव चड्ढा ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए आगे कहा कि अनुच्छेद 356 साफ तौर पर कहता है कि अगर राज्यपाल केंद्र सरकार को यह बताता है कि हमारा राज्य जल रहा है. हमारे राज्य के अंदर लॉ एंड ऑर्डर ब्रेक डाउन हो गया है तो उसी समय तुरंत प्रभाव से केंद्र सरकार को राष्ट्रपति शासन घोषित करना होता है. हालांकि यह दुख का विषय यह है कि मणिपुर के राज्यपाल चीख-चीखकर कह रहे हैं कि मणिपुर जल रहा है, मणिपुर को बचा लो, मणिपुर के अंदर हजारों लोग बेघर हो गए हैं.  

राघव चड्ढा ने कहा कि राज्यपाल ने यह भी कहा है कि मैंने केंद्र सरकार और राष्ट्रपति जी को बता दी है पर फिर भी अभी तक देश की सरकार ने मणिपुर में 356 लागू कर वहां पर राष्ट्रपति शासन घोषित नहीं किया. यह सिर्फ इसीलिए नहीं किया क्योंकि वहां पर बीजेपी की सरकार है. बीजेपी या नहीं चाहती कि जिस राज्य में हमारी सरकार है वह राज्य हमारे हाथ से निकल जाए

राघव चड्ढा ने आगे सवाल करते हुए कहा कि मणिपुर जल रहा है, क्या अभी भी सत्ता का खेल चलेगा. मैं साफ तौर पर इल्जाम लगाना चाहता हूं केंद्र सरकार पर कि वह अनुच्छेद 355 और अनुच्छेद 356 भारत के संविधान का लागू करने में पूरी तरह से विफल रही है