menu-icon
India Daily
share--v1

'दिल्ली में डेमोक्रेसी नहीं बाबूक्रेसी होगी', दिल्ली अध्यादेश को लेकर राघव चड्ढा का बड़ा बयान

Raghav Chadha: राघव चड्ढा ने दिल्ली अध्यादेश को विधेयक बनाने वाले बिल को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने सीधे तौर पर बीजेपी पर निशाना साधा है.

auth-image
Gyanendra Tiwari
'दिल्ली में डेमोक्रेसी नहीं बाबूक्रेसी होगी', दिल्ली अध्यादेश को लेकर राघव चड्ढा का बड़ा बयान

नई दिल्ली.  सदन में दिल्ली अध्यादेश को एक बिल के रूप में आज सदन के भीतर लाया जा रहा है. इसे लेकर आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा का बड़ा बयान सामने आया है. उन्होंने इस मुद्दे पर कहा कि केन्द्र सरकार का इस विधेयक के जरिए देश की राजधानी दिल्ली में डेमोक्रेसी को बाबूक्रेसी में बदल देगी. यहां जनता द्वारा चुनी हुई सरकार नहीं चलेगी बल्कि यूपीएफसी और उपराज्यपाल चलाएंगे.

यह भी पढ़ें- Bihar Caste Census: पटना हाईकोर्ट ने नीतीश सरकार के पक्ष में सुनाया फैसला, जाति आधारित जनगणना पर लगी रोक हटी

उपराज्यपाल को दी जाएंगी शक्तियां

राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने कहा कि इस विधेयक के जरिए चुनी हुई सरकार की शक्तियों को छीनकर बीजेपी द्वारा अपॉइंटेड उपराज्यपाल को दे दी जाएंगी.यह जो बिल लाया गया है ऑर्डिनेंस को रिप्लेस करने के लिए लाया गया है.

 उन्होंने कहा, यह बिल कई सारी चीजें कहता है मैं आपको कुछ उदाहरण देता हूं एक यह कहता है कि मंत्रिमंडल के कोई भी फैसले हो अफसरशाही लागू करने से मना कर सकती है और गलत ठहरा सकती हैं. दूसरी यह कहता है कि मंत्रियों का जो भी फैसला लिया जाएगा उस पर अफसरों का एक ऑडिट होगा कि यह फैंसला सही है या गलत.

पिछले 6 बार के विधानसभा चुनाव में दिल्ली में भाजपा हर बार हारी है. एक बार नहीं जीत पाई है.

यह भी पढ़ें- Viral Video: 12 लाख खर्च कर इंसान से कुत्ता बना सख्श, सड़क पर निकला तो ऐसा था दूसरे कुत्तों का रिएक्शन