menu-icon
India Daily
share--v1

Puri Lok Sabha Result: पुरी में ढहा BJD का किला, बड़े अंतर से जीते BJP के संबित पात्रा

Puri Lok Sabha Result: पुरी लोकसभा सीट से बीजेपी के स्पोक्सपर्सन संबित पात्रा ने जीत हासिल कर ली है.उन्होंने कड़े मुकाबले में बीजू जनता दल के अरुप मोहन पटनायक को हराया है.

auth-image
India Daily Live
Puri
Courtesy: Social Media

Puri Lok Sabha Result: ओडिशा की पुरी लोकसभा सीट से बीजेपी ने जीत हासिल कर ली है. इस सीट पर बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा मैदान में थे. संबित ने बीजू जनता दल के अरुप मोहन पटनायक को हराया है. संबित पुरी लोकसभा सीट से चुनाव जीतकर पहली बार सदन पहुंचे हैं. तीसरे स्थान पर कांग्रेस के जयनारायण पटनायक रहे. संबित को पुरी लोकसभा सीट पर 629330 वोट हासिल हुए. वहीं, बीजू जनता दल के अरुप को 524621 वोट ही प्राप्त हो सके. 

क्या हैं स्थानीय मुद्दे?

धर्म नगरी के नाम पर चर्चित पुरी सीट पर इस बार आमने-सामने की लड़ाई है. कांग्रेस उम्मीदवार के बदले जाने और आनन-फानन में नए उम्मीदवार के आने से लड़ाई संबित पात्रा और अरुप पटनायक के बीच हो गया. स्थानीय समस्याओं और विकास के मुद्दे उठाकर चुनाव लड़ रहे संबित पात्रा ने आखिर में भगवान जगन्नाथ और पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर जो टिप्पणी की थी, उसको लेकर उन्होंने माफी भी मांगी लेकिन यह बात भी आखिर में मतदाताओं तक पहुंच गई.

जातीय समीकरण

जगन्नाथ मंदिर के लिए मशहूर पुरी शहर में 15.54 फीसदी आबादी अनुसूचित जाति की है. पिछले विधानसभा चुनाव की बात करें तो यहां की सात विधानसभा सीटों में से पांच पर बीजेडी और दो पर बीजेपी ने जीत हासिल की थी. इस बार भी संबित पात्रा के मैदान में डटे रहने के कारण चुनाव काफी रोमांचक होने वाला है. बीजेपी को उम्मीद है कि पिछली बार की कसर को इस बार वह पूरी कर लेगी और संबित पात्रा लोकसभा चुनाव जीतकर संसद पहुंच जाएंगे.

2019 में कौन जीता था?

साल 2019 के लोकसभा चुनाव में भी भारतीय जनता पार्टी की ओर से संबित पात्रा ही मैदान में थे. ओडिशा में पैर जमाने में लगी बीजेपी ने इस सीट पर सत्ताधारी बीजेडी को कड़ी टक्कर दी थी. दूसरे नंबर पर रहे संबित पात्रा को 5.26 लाख वोट मिले थे. वहीं, पिनाकी मिश्रा 5.38 लाख वोट पाकर विजयी हुए थे. कांग्रेस पार्टी सिर्फ 3.94 पर्सेंट यानी कुल 44 हजार वोट पाकर तीसरे नंबर पर रही थी. इस बार भी कांग्रेस इस सीट पर डांवाडोल स्थिति में ही रही.

लोकसभा सीट का इतिहास

पुरी के सांसद पिनाकी मिश्रा बीजेडी में आने से 1996 में कांग्रेस के सांसद हुआ करते थे. 1998 में बीजेडी के टिकट पर ब्रज किशोर त्रिपाठी चुनाव जीते तो वह लगातार तीन बार सांसद बनते रहे. उनके बाद पिनाकी मिश्रा 2009 से 2019 तक लगातार चुनाव जीत चुके हैं. इसी सीट के सांसद रहे पुराने नेताओं की बात करें तो बृजमोहन मोहंती दो बार, पद्मचरण समंतसिंहार, बनमाली पटनायक, रबी रे, बिबुधेंद्र मिश्रा और चिंतामणि पाणिग्रही जैसे नेता भी पुरी का प्रतिनिधित्व  कर चुके हैं. इस सीट पर आज तक बीजेपी एक भी बार चुनाव नहीं जीत पाई है.