menu-icon
India Daily
share--v1

'संविधान सदन के नाम से जाना जाए पुराना संसद भवन', पीएम मोदी ने सभी संसदों से की अपील

Samvidhan Sadan: आज से संसद की कार्यवाही नही भवन में शुरू हो चुकी है. इस दौरान पुरानी संसद भवन को लेकर पीएम मोदी ने एक सुझाव दिया. पीएम मोदी ने कहा कि पुरानी संसद को अब संविधान सदन के नाम से जाना जाएगा.

auth-image
Purushottam Kumar
'संविधान सदन के नाम से जाना जाए पुराना संसद भवन', पीएम मोदी ने सभी संसदों से की अपील

Samvidhan Sadan: संसद के 5 दिवसीय विशेष सत्र का आज दूसरा दिन है. आज से संसद की कार्यवाही नही भवन में शुरू हो चुकी है. इस दौरान पुरानी संसद भवन को लेकर पीएम मोदी ने एक सुझाव दिया. पीएम मोदी ने कहा कि पुरानी संसद में जहां संविधान बनाने के लिए संविधान सभा की बैठकें की गई थीं इसलिए इसे अब संविधान सदन के नाम से जाना जाएगा.

‘सेंट्रल हॉल से जुड़ी हैं भावनाएं’

पीएम मोदी ने कहा कि यह संसद भवन और उसमें मौजूद सेंट्रल हॉल से हमारी भावनाएं जुड़ी हुई हैं जो हमें भावुक करता है, अपने कर्तव्यों के लिए प्रेरित करता है. पीएम ने आगे कहा कि 1952 से अब तक इस सेंट्रल हॉल से दुनिया के करीब 41 राष्ट्राध्यक्षों ने हमारे सांसदों को संबोधित किया है. हमारे सभी राष्ट्रपति महोदयों द्वारा भी इस सेंट्रल हॉल 86 बार संबोधन दिया गया है.

ये भी पढ़ें: नए संसद भवन में 6 द्वार, 1280 सदस्यों के बैठने की व्यवस्था, भव्य और विराट है पार्लियामेंट

‘संविधान सदन के नाम से जाना जाना चाहिए’

सदन में पीएम मोदी ने कहा कि ये संसद और उसमें ये सेंट्रल हॉल से हमारी भावनाएं जुड़ी हुई है. यह भवन हमें कर्तव्यों के लिए प्रेरित करता है इसलिए मेरा एक सुझाव है कि जब हम नई संसद में जा रहे हैं, तो पुरानी संसद भवन की गरिमा कभी कम न हो. इसे पुराने संसद भवन के रूप में नहीं छोड़ा जाना चाहिए. इसलिए, मैं सभी लोगों से आग्रह करना चाहता हूं कि अगर आप भी सहमत हैं, इसे 'संविधान सदन ' के नाम से जाना जाना चाहिए.   

ये भी पढ़ें: 'ये भवन और ये सेंट्रल हॉल हमारी भावनाओं से भरा हुआ है', संसद में बोले PM मोदी