menu-icon
India Daily
share--v1

"मेरी एक मां यहां बैठी है,दूसरी मां को मणिपुर में मारा गया,भारत एक सेकंड में.....", मणिपुर हिंसा को लेकर राहुल गांधी का जुबानी हमला

No Confidence Motion Debate : अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कुछ ही दिन पहले मैं मणिपुर गया. हमारे प्रधानमंत्री आज तक नहीं गए क्योंकि उनके लिए मणिपुर हिंदुस्तान नहीं है. मैंने मणिपुर शब्द प्रयोग किया, लेकिन आज की सच्चाई यह है कि मणिपुर नहीं बचा है.

auth-image
Avinash Kumar Singh
"मेरी एक मां यहां बैठी है,दूसरी मां को मणिपुर में मारा गया,भारत एक सेकंड में.....", मणिपुर हिंसा को लेकर राहुल गांधी का जुबानी हमला

नई दिल्ली: अविश्वास प्रस्ताव पर लोकसभा में बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि कुछ ही दिन पहले मैं मणिपुर गया. हमारे प्रधानमंत्री आज तक नहीं गए क्योंकि उनके लिए मणिपुर हिंदुस्तान नहीं है. मैंने मणिपुर शब्द प्रयोग किया, लेकिन आज की सच्चाई यह है कि मणिपुर नहीं बचा है. मणिपुर को आपने दो भाग में बांट दिया है, तोड़ दिया है. मैं मणिपुर में राहत शिविरों में गया. वहां महिलाओं से बात की, बच्चों से बात की, जो प्रधानमंत्री ने आज तक नहीं की.  

"भारत अहंकार को मिटा देता है एक सेकंड में मिटा देता है"

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लोकसभा में बोलते हुए भारत जोड़ो यात्रा के दौरान अपने अनुभवों को साझा किया. राहुल गांधी ने कहा कि वह बीजेपी सरकार की नीतियों के खिलाफ जनता से जुड़ने के लिए भारत जोड़ा यात्रा पर गए थे. राहुल गांधी ने कहा कि "शुरुआत में जब मैंने यात्रा की शुरुआत की थी तो मेरे मन में था कि अगर मैं हर दिन 10 किमी दौड़ सकता हूं तो 25 किमी पैदल चलना कोई बड़ी बात नहीं है. आज जब मैं देखता हूं यह अहंकार था. उस समय मेरा दिल भर आया था लेकिन भारत अहंकार को मिटा देता है एक सेकंड में मिटा देता है"

राहुल गांधी ने आगे कहा कि पिछले साल 130 दिनों तक मैं एक छोर से दूसरे छोर तक चला.लोगों और उस चीज के साथ जो मुझे पसंद है और जिसके लिए मैं मरने या जेल जाने को तैयार हूं. सच्चाई यह है कि यह देश एक आवाज है.भारत इस देश की आवाज है,इसे सुनने के लिए हमें नफरत को खत्म करना होगा.
मैं देश के एक छोर से दूसरे छोर तक कश्मीर के बर्फीले पहाड़ों तक पैदल चला"

यह भी पढ़ें:  Rajasthan: सरदारपुरा में 1999 से कायम है अशोक गहलोत की सरदारी, बीजेपी का हर पैंतरा हुआ है फेल, क्या इस बार बदलेंगे समीकरण?

राहुल गांधी ने मणिपुर की अपनी यात्रा का किया जिक्र

कांग्रेस नेता राहुल गांधी मणिपुर की अपनी यात्रा का जिक्र करते हुए जातीय हिंसा के पीड़ितों के साथ अपनी बातचीत को याद किया. उन्होंने कहा कि कुछ दिन पहले, मैं मणिपुर गया था. हमारे पीएम आज तक नहीं गए क्योंकि उनके लिए मणिपुर भारत नहीं है. "मैंने एक महिला से पूछा तुम्हें क्या हुआ तो उसने जवाब दिया कि मेरे इकलौते बेटे को मेरी आंखों के सामने गोली मार दी गई. मैं पूरी रात रोती रही और उसकी लाश के साथ रही. मैं डर गई थी. मैंने अपना घर और मेरे पास जो कुछ भी था सब छोड़ दिया. उस महिला के पास केवल पहने हुए कपड़े और एक तस्वीर थी जो उन्हें थोड़ा खंगालने के बाद मिली"

"एक मेरी मां यहां बैठी है, दूसरी मां को मणिपुर में मारा गया"

अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान राहुल गांधी ने लोकसभा में बोलते हुए कहा कि "आप भारत माता रखवाले नहीं हो.आप भारत माता के हत्यारे हो.आप देशद्रोही हैं.एक मेरी मां यहां बैठी है.दूसरी मां को मणिपुर में मारा है.हिंदुस्तान की सेना चाहे तो मणिपुर में एक दिन में शांति बहाल कर सकती है.सरकार मणिपुर में शांति नहीं चाहती है.मोदी देश की आवाज नहीं सुनते.बीजेपी की राजनीति ने मणिपुर में हिंदुस्तान की हत्या की है. तुम देशद्रोही हो,राष्ट्रद्रोही हो, आपने भारत माता की हत्या की है.आप भारत माता के रखवाले नहीं हो, भारत माता के हत्यारे हो"

यह भी पढ़ें:  आखिर क्यों मनाया जाता है विश्व आदिवासी दिवस, क्या है इसका इतिहास