menu-icon
India Daily
share--v1

सुप्रीम कोर्ट से मनीष सिसोदिया को लगा झटका, दिल्ली शराब घोटाले मामले में जमानत याचिका खारिज

Manish Sisodia Case Hearing SC: दिल्ली आबकारी नीति में कथित अनियमितताओं से जुड़े मामलों में दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने मनीष सिसोदिया की जमानत याचिका खारिज कर दी है.

auth-image
Avinash Kumar Singh
सुप्रीम कोर्ट से मनीष सिसोदिया को लगा झटका, दिल्ली शराब घोटाले मामले में जमानत याचिका खारिज

नई दिल्ली: दिल्ली आबकारी नीति में कथित अनियमितताओं से जुड़े मामलों में दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को सुप्रीम कोर्ट से झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने मनीष सिसोदिया की जमानत याचिका खारिज कर दी है. सुप्रीम कोर्ट की दो सदस्यीय जजों जस्टिस संजीव खन्ना और जस्टिस एसवीएन भट्टी की पीठ ने सिसोदिया की जमानत याचिका खारिज करते हुए कहा कि इस मामले में 336 करोड़ रुपये की मनी ट्रेल साबित हुई है. ऐसे में आपकी जमानत अर्जी खरिज की जा रही है.

SC ने  6 से 8 महीने में ट्रायल पूरा करने के दिये निर्देश

सुनवाई के दौरान SC ने  6 से 8 महीने में ट्रायल पूरा करने का निर्देश दिया है. कोर्ट ने साफतौर पर निर्देश दिया है कि मनीष सिसोदिया के खिलाफ मुकदमे को 6 से 8 महीने के भीतर पूरा किया जाना चाहिए. अगर मुकदमे की प्रक्रिया धीमी रहती है, तो सिसोदिया तीन महीने के भीतर फिर से जमानत के लिए याचिका दायर करने के लिए हकदार होंगे. अगर तीन महीने में ऐसा लगता है कि ट्रायल की रफ्तार धीमी है तो दोबारा से जमानत के लिए मनीष सिसोदिया याचिका डाल सकते हैं. ऐसे में अब सबसे बड़ा यह सवाल है कि अगर मुकदमे की प्रक्रिया धीमी रहती है तो क्या मनीष सिसोदिया फिर तीन महीने बाद अदालत का दरवाजा खटखटाते है?

मनीष सिसोदिया पर भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग का गंभीर आरोप

बीते 17 अक्टूबर को सुनवाई पूरी होने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने मनीष सिसोदिया की जमानत याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. इस दौरान मनीष सिसोदिया के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कोर्ट में दलील देते हुए कहा था कि जांच एजेंसी के पास इस पूरे प्रकरण में सिसोदिया से सीधे जुड़ा कोई सबूत नहीं है और न ही इस घोटाले से उनका कोई लेना-देना नहीं है. फिर भी उसके बावजूद उन्हें आरोपी बनाया गया है. दिल्ली आबकारी नीति मामले में कथित तौर पर भ्रष्टाचार के आरोप में मनीष सिसोदिया फिलहाल जेल में बंद हैं. इस मामले में सीबीआई और ईडी दोनों ने सिसोदिया के खिलाफ केस दर्ज की है. सिसोदिया के ऊपर दिल्ली शराब नीति में भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग करने का गंभीर आरोप है.

यह भी पढ़ें: एस जयशंकर ने 8 पूर्व नौसेना अधिकारियों के परिवारों से की मुलाकात, कतर की अदालत ने सुनाई है मौत की सजा