share--v1

'मैं मलाला नहीं हूं' कहने वाली कश्मीरी याना मीर से वतन लौटते ही बदसलूकी, एयरपोर्ट पर हुआ चोरों जैसा व्यवहार

Kashmiri journalist Yana Mir Big Allegation: कश्मीरी पत्रकार और सामाजिक कार्यकर्ता याना मीर ने हाल ही में ब्रिटिश की संसद को संबोधित किया था. इसके बाद याना वापस भारत लौटी हैं.

auth-image
India Daily Live

Kashmiri journalist Yana Mir Big Allegation: कश्मीर की सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार याना मीर के साथ दिल्ली के हवाई अड्डे पर बदसलूकी का आरोप है. इस घटना का खुलासा खुद याना मीर ने किया है. उन्होंने अपने ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया है. हाल ही में याना मीर ब्रिटिश संसद में अपने एक भाषण के कारण सुर्खियों में आई थी. उन्होंने कहा था कि मैं मलाला यूसुफजई नहीं हूं, क्योंकि मुझे कभी भी अपने देश (भारत) से भागना नहीं पड़ेगा.

याना मीर ने अब दावा किया है कि लंदन से लौटने के बाद दिल्ली हवाई अड्डे पर उनके साथ चोरों जैसा व्यवहार किया गया है. उधर, कस्टम विभाग ने इन आरोपों से इनकार किया. विभाग ने कहा है कि विशेषाधिकार कानून से ऊपर नहीं हैं. कश्मीरी सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार याना मीर ने अपने आधिकारिक एक्स पर एक वीडियो शेयर किया. इस दौरान कस्टम विभाग के अधिकारी उनके सामान की जांच कर रहे थे. जांच के दौरान याना मीर कस्टम अधिकारियों पुर भड़कती हुई सुनाई दे रही हैं. 

वीडियो में याना मीर ने लगाए ये आरोप

वीडियो में याना मीर उन्हें परेशान करने का आरोप लगा रही हैं. वे कह रही हैं कि आप मुझसे सुबह 5 बजे ऐसा क्यों करवा रहे हैं? क्या आपने आपकी टीम को बताया है कि मैं क्या करके आयी हूं? इस दौरान एक अधिकारी उन्हें शांत करने की कोशिश करता है और कहता है कि इन्हें जाने दो. इस पर याना मीर ने कहा कि मैं इस मामले को ऐसे जाने नहीं दूंगी. ये शर्मनाक है. 

याना मीर ने कहा कि वे मुझे परेशान कर रहे हैं. उन्होंने मेरे बैग को स्कैन किया, बैग खोला और अब भी मुझे यहां इंतजार करवा रहे हैं, क्योंकि वे मेरे पास कुछ खाली लुई वुइटन बैग के लिए मुझसे पैसे मांग रहे हैं. उन्होंने कहा कि ये शॉपिंग बैग हैं. इस देश में राष्ट्रवादी नागरिकों के साथ इसी तरह व्यवहार किया जाता है. 

लग्जरी ब्रांड के बैग की वजह से हुआ पूरा विवाद

उन्होंने लग्जरी ब्रांड के नारंगी रंग के शॉपिंग बैग दिखाने के लिए अपने फोन के कैमरे को घुमाया और दावा किया कि वे उनकी भाभी के हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि हमारे साथ इस तरह का व्यवहार किया जाता है, जैसे कि हम कोई अपराधी हों.

दिल्ली हवाई अड्डे पर रिकॉर्ड किए गए वीडियो में याना मीर ने अपने यूके भाषण के बारे में भी कई बार कहा. उन्होंने कहा कि अभी हाल ही में मैंने लंदन के सभी चैनलों पर कहा था कि भारतीय इतने संपन्न और समृद्ध हैं कि हम लंदन में शरणार्थियों की तरह नहीं रहते हैं. हम लाखों की खरीदारी करते हैं, लेकिन जब हम वापस आते हैं तो हमारे साथ ऐसा व्यवहार किया जाता है जैसे हम चोर हैं. उन्होंने ये भी कहा कि अधिकारियों का व्यवहार ऐसा है जैसे मैं ड्रग तस्कर हूं. 

ब्रिटिश संसद में याना मीर ने कहा था ये सब

याना मीर जम्मू-कश्मीर यूथ सोसाइटी से जुड़ी हैं. उन्होंने हाल ही में ब्रिटिश संसद में जम्मू-कश्मीर स्टडी सेंटर यूके (जेकेएससी) की ओर से आयोजित संकल्प दिवस ​​कार्यक्रम को संबोधित किया था. इस दौरान उन्होंने कहा था कि मैं मलाला युसुफजई नहीं हूं, जो अपना देश छोड़ दूं. 

Also Read

First Published : 26 February 2024, 07:29 PM IST