share--v1

मुझे गिरफ्तार करने की लंबी साजिश, विधानसभा में सोरेन ने खेला आदिवासी कार्ड

जमीन घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ED ने 31 जनवरी को हेमंत सोरेन को गिरफ्तार किया था. विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद चंपई सोरेन ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. चंपई सरकार ने आज विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव पास कर लिया. सरकार के समर्थन में कुल 47 वोट, जबकि विपक्ष को कुल 29 वोट मिले.

auth-image
Om Pratap
फॉलो करें:

Hemant Soren emotional speech: झारखंड विधानसभा में सोमवार को फ्लोर टेस्ट से ठीक पहले पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भाजपा पर जमकर बरसे. उन्होंने भाजपा पर आरोप लगाते हुए कहा कि अगर मैं फाइव स्टार होटल में रुकूं, बीएमडब्ल्यू चलाऊं, तो उन्हें समस्या होती है. सदन में बोलने के दौरान थोड़ी देर के लिए हेमंत सोरेन इमोशनल भी हुए और कहा कि मैं आज आंसू नहीं बहाऊंगा, आंसू वक्त के लिए रखूंगा, आप लोगों के लिए आंसू का कोई मतलब नहीं.  

मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप झेल रहे हेमंत सोरेन को आज ED की टीम जेल से लेकर विधानसभा पहुंची थी. विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान हेमंत सोरेन ने कहा कि चंपई सोरेन को झामुमो के नेतृत्व वाले गठबंधन का पूरा समर्थन है. अपनी गिरफ्तारी को लेकर केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने 31 जनवरी की रात को देश के लोकतंत्र में 'काला अध्याय' बताया. उन्होंने राज्यपाल कार्यालय पर गंभीर आरोप लगाते हुए आरोप लगाया कि उनकी गिरफ्तारी की घटनाओं में राजभवन भी शामिल था.

बोले- मुझे गिरफ्तार करने की साजिश लंबे समय से चल रही थी

हेमंत सोरेन ने कहा कि उन्हें गिरफ्तार करने की कथित साजिश लंबे समय से चल रही थी. उन्होंने कहा कि इसे धीमी आंच पर पकाया जा रहा था. इसे सुनियोजित तरीके से अंजाम दिया गया है. बीआर अंबेडकर का जिक्र करते हुए हेमंत सोरेन ने पिछड़े वर्गों के खिलाफ अत्याचार की चर्चा की. उन्होंने कहा कि 31 जनवरी को जो हुआ वह इसका एक और उदाहरण है.

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वे इस नफरत के स्रोत को समझ नहीं पा रहे हैं. उनका कोई करीबी ये कहने से भी नहीं हिचकिचाता कि हमें (आदिवासियों को) जंगल में रहना चाहिए. हम जंगल छोड़कर उनके पास आकर बैठे. वे हमें अछूत के रूप में देखते हैं. हेमंत सोरेन ने कहा कि उन्हें समस्या है कि मैं हवाई जहाज़ में यात्रा करता हूं, उन्हें समस्या है कि मैं फाइव स्टार होटलों में रुकता हूं, बीएमडब्ल्यू में सफर करता हूं.  

हेमंत सोरेन बोले- मैंने हार स्वीकार नहीं की है

हेमंत सोरेन ने कहा कि मैंने हार स्वीकार नहीं की है. उन्होंने कहा कि विरोधियों को लगता है कि वे अपनी साजिश में सफल होंगे, लेकिन झारखंड ऐसा राज्य है, जहां आदिवासियों और दलितों ने बलिदान दिया है. उन्होंने कहा कि करोड़ों रुपये चोरी कर विदेश भागने वालों का केंद्रीय एजेंसियां कुछ नहीं कर सकती. वे सिर्फ आदिवासियों और निर्दोषों को निशाना बना सकते हैं. 

हेमंत ने ये भी कहा कि जो मेरे खिलाफ आरोप लगाए गए हैं, जिसमें कहा गया है कि मेरे नाम पर 8.5 एकड़ का जमीन का प्लॉट है. अगर भाजपा ये साबित कर दे तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा. मैं रोऊंगा नहीं क्योंकि आदिवासियों के आंसू आपके लिए कोई मायने नहीं रखते. सही समय पर मैं उनकी हर साजिश का जवाब दूंगा.

सोरेन ने झारखंड के भाजपा नेताओं पर भी निशाना साधा और कहा कि ये सभी सामंती मानसिकता वाले लोगों के सामने झुकते हैं. पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि झारखंड बने 24 साल हो गए हैं. कौन सी पार्टी सबसे लंबे समय तक सत्ता में थी? सारा भ्रष्टाचार 2019 में शुरू हुआ? सोरेन ने कहा कि वे नहीं चाहते कि आदिवासियों का उत्थान हो. वे नहीं चाहते कि हम जज, आईपीएस या आईएएस अधिकारी बनें. वे नहीं चाहते कि हम नेता बनें, अपना पांच साल का कार्यकाल पूरा नहीं कर पाए.

Also Read

First Published : 05 February 2024, 02:52 PM IST