menu-icon
India Daily
share--v1

मेनका गांधी के बयान से मचा कोहराम, कहा- 'इस्कॉन कसाइयों को बेच रहा है गाय'...मिला ये जवाब

Maneka Gandhi Alleges Iskcon: बीजेपी नेता मेनका गांधी के बयान से हड़कंप मच गया है. उन्होंने कहा है कि इस्कॉन सभी गाय कसाइयों को बेच रहा है.

auth-image
Amit Mishra
मेनका गांधी के बयान से मचा कोहराम, कहा- 'इस्कॉन कसाइयों को बेच रहा है गाय'...मिला ये जवाब

Maneka Gandhi Alleges Iskcon: भारतीय जनता पार्टी की नेता और सांसद मेनका गांधी (Maneka Gandhi) के एक बयान ने सियासी हलकों में हड़कंप मचा दिया है. बयान के बाद मांग की जा रही है कि मामले की जांच होनी चाहिए. वायरल वीडियों में मेनका इस्कॉन की गौशालाओं की बात कर रही हैं. वीडियो में वो कह रही हैं कि इस्कॉन की गौशालाओं में सिर्फ दूध देने वाली गाय ही रखी जाती हैं. एक गौशाला जहां वो गई थीं, वहां एक भी बछड़ा नहीं था.

मेनका गांधी ने ये कहा

मेनका गांधी ने कहा, ''मैं आपको बता देती हूं...सबसे बड़े...जो यहां देश के धोखेबाज हैं, वो हैं इस्कॉन. वो गौशाला बनाते हैं और  गौशाला चलाने के लिए सरकार से उन्हें दुनिया भर का फायदा मिलता है. बड़ी-बड़ी जमीन मिलती है. मैं अभी उनकी अनंतपुर गौशाला गई थी. एक भी सूखी गाय नहीं थी, पूरी की पूरी डेयरी थी. एक भी बछड़ा नहीं. इसका मतलब सब बेचे गए. इस्कॉन सभी गाय कसाइयों को बेच रहा है. जितना ये गाय बेचते हैं और कोई नहीं करता. सड़क पर जाकर जो हरे राम, हरे कृष्ण करते हैं और कहते हैं दूध...दूध...दूध पर उनका पूरा जीवन है. जितनी गाय उन्होंने कसाइयों को बेची हैं, शायद ही किसी और ने बेची हों.''

 

इस्कॉन का जवाब

इस्कॉन ने मेनका गांधी के आरोपों का जवाब देते हुए इसे तथ्यहीन करार दिया है. इस्कॉन के राष्ट्रीय प्रवक्ता युधिष्ठिर गोविंद दास ने कहा कि उनकी संस्था गाय और बैल के संरक्षण के लिए ना सिर्फ भारत में काम कर रही है, बल्कि दुनिया भर में लगी है. इस्कॉन की गौशाला में गाय और बैल तब तक रहते हैं जब तक वो जिंदा हैं. एक भी गाय, बैल या बछड़ों को कसाइयों को नहीं बेचा जाता है.

 

ये भी जानें

बता दें कि मेनका गांधी का ये बयान जो वायरल हो रहा है. वो लगभग एक महीने पहले दिए उनके एक इंटरव्यू का है. इस इंटरव्यू में मेनका गांधी ने डेयरी फार्मिंग पर तमाम सवालों के जवाब दिए. उन्होंने कहा था कि डेयरी फार्मिंग अपने आप में क्रूर व्यापार है. इसे बंद करना चाहिए. इसके बदले कुछ और करना चाहिए.

यह भी पढ़ें: बिहार में अल्पसंख्यकों को मिलेगा 10 लाख का लोन 5 लाख माफ करेगी सरकार...जानें पूरी योजना

पढ़ें देश से जुड़ी अन्य बड़ी खबरें