menu-icon
India Daily
share--v1

IIT BHU गैंगरेप मामल; दो महीने बाद तीनों आरोपी गिरफ्तार; गन प्वाइंट पर वारदात को दिया था अंजाम

पुलिस ने बताया कि जिन तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, उनकी पहचान सुंदरपुर के बृज इंक्लेव कॉलोनी निवासी कुणाल पांडेय, जिवधीपुर बजरडीहा के आनंद उर्फ अभिषेक चौहान और बजरडीहा के सक्षम पटेल के तौर पर हुई है.

auth-image
Om Pratap
IIT BHU gang raped case accused arrested varanasi police

हाइलाइट्स

  • आरोपियों ने 1 नवंबर को वारदात को दिया था अंजाम
  • लंका थाना क्षेत्र में पीड़िता ने दर्ज कराई थी FIR

IIT BHU gang raped case accused arrested varanasi police: वाराणसी पुलिस ने IIT BHU में छात्रा से गैंगरेप करने वाले तीनों आरोपियों को लंका इलाके से गिरफ्तार कर लिया. तीनों आरोपियों ने वाराणसी हिंदू यूनिवर्सिटी (BHU) की छात्रा से गन प्वाइंट पर गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया था. तीनों आरोपियों ने घटना के दौरान वीडियो भी बनाया था. तीनों आरोपी भाजपा आईटी सेल के सदस्य बताए जा रहे हैं.

पुलिस ने बताया कि जिन तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, उनकी पहचान सुंदरपुर के बृज इंक्लेव कॉलोनी निवासी कुणाल पांडेय, जिवधीपुर बजरडीहा के आनंद उर्फ अभिषेक चौहान और बजरडीहा के सक्षम पटेल के तौर पर हुई है. पुलिस ने बताया कि तीनों आरोपियों ने छात्रा का पहले अपहरण किया था, फिर गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया था और फिर कपड़े उतारकर वीडियो भी बनाया था.

घटना को लेकर BHU में हुआ था विरोध प्रदर्शन

जानकारी के मुताबिक, IIT BHU की छात्रा के साथ 1 नवंबर को वारदात को अंजाम दिया गया था. घटना की जानकारी के बाद यूनिवर्सिटी कैंपस में विरोध प्रदर्शन भी किया गया था. आखिरकार पुलिस को दो महीने पुराने मामले में कामयाबी मिल ही गई. वारदात में यूज की गई बाइक भी बरामद कर ली गई है. 

1 नवंबर को हुई घटना के मुताबिक, BHU की छात्रा न्यू गर्ल्स हॉस्टल से आधी रात बाद करीब 1:30 बजे बाहर किसी काम से निकली थी. जब छात्रा BHU कैंपस में गांधी स्मृति छात्रावास चौराहे पर पहुंची, तो वहां उसका दोस्त मिला. इसके बाद छात्रा अपने दोस्त के साथ आगे बढ़ी. जानकारी के मुताबिक, जैसे दोनों कर्मन वीर बाबा मंदिर के पहुंचे, पीछे से एक बाइक पर सवार तीन युवकों ने छात्रा और उसके दोस्त को रोक लिया. 

छात्रा के दोस्त को भगाया, फिर वारदात को दिया अंजाम

रिपोर्ट्स के मुताबिक, तीनों आरोपियों ने छात्रा के दोस्त को वहां से भगा दिया और छात्रा को गन प्वाइंट पर लेकर अंधेरे की ओर चले गए. इसके बाद तीनों आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया और पूरी घटना का वीडियो बनाया. जब छात्रा ने विरोध जताया तो आरोपियों ने उसे जान से मारने की धमकी दी.