share--v1

बोर्ड एग्जाम में शिक्षकों की गलती पर सरकार हुई सख्त, ठोका करोड़ों रुपये का जुर्माना

Gujarat Board: शिक्षकों की गलती की वजह से छात्रों के होने वाले नुकसान को देखते हुए सरकार ने सख्ती दिखाई है. इसको देखते हुए गुजरात बोर्ड ने 9 हजार से ज्यादा शिक्षकों पर जुर्माना लगाया है.

auth-image
India Daily Live
फॉलो करें:

Gujarat Board: ऐसा कई घटना सामने आती है जिसमें शिक्षकों की गलती की वजह से छात्रों का नंबर परीक्षा में कम हो जाता है. इसी तरह के मामले को देखते हुए गुजरात सरकार ने प्रदेश के शिक्षकों पर करोड़ों का जुर्माना लगया है. गुजरात बोर्ड परीक्षा मूल्यांकन के दौरान शिक्षकों ने छात्रों के नंबर को सही डंग से नहीं मूल्यांकन नहीं किया था.

1.5 करोड़ रुपये का लगा जुर्माना

गुजरात बोर्ड शिक्षकों द्वारा 10वीं और 12वीं की आंसरशीट में मार्क्स को सही तरीके से नहीं जोड़ा गया था. जिसके वजह से छात्रों को उनका नंबर नहीं मिल पाया. इस गलती के कारण ही 9218 शिक्षकों पर 1.5 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है.

विधानसभा में बोले गुजरात के शिक्षा मंत्री

गुजरात सरकार के शिक्षा मंत्री ने इसको लेकर विधानसभा में जानकारी दी कि 10वीं और 12वीं की आंसरशीट मूल्यांकन में प्रदेश के 9218 शिक्षकों ने गलती की है. जिनके वजह से उन शिक्षकों पर 1.5 करोड़ का जुर्माना लगाया गया है. ये जानकारी उन्होंने कांग्रेस विधायक किरीट पटेल द्वारा पूछे गए प्रश्न का जवाब देते हुए बताया था.

अभी भी 26 सौ से ज्यादा शिक्षकों से वसूली बाकी

इस जुर्माने में अभी भी 2657 शिक्षकों ने जुर्माना नहीं है. जिसमें से 10वीं के 787 और 12वीं के 1870 शिक्षकों को जुर्माना भरना है. जो रकम के रूप में 50.97 लाख रुपये का जुर्माना वसूला जाना बाकि है. वहीं गुजरात माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने विद्यार्थियों के लिए टोल फ्री हेल्प लाइन नंबर 1800 233 5000 की घोषणा की है. 

Also Read

First Published : 07 February 2024, 04:53 PM IST