menu-icon
India Daily
share--v1

स्वाति मालीवाल केस: CCTV, DVR, प्रिंटर और लैपटॉप, सीएम हाउस से क्या-क्या ले गई दिल्ली पुलिस?

पुलिस सूत्रों के मुताबिक घटना के वक्त का सीसीटीवी फुटेज नहीं मिला है. पुलिस का कहना है कि आरोपी बिभव कुमार जांच में सहयोग नहीं कर रहा है.

auth-image
India Daily Live
arvind kejriwal

आप राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल की कथित पिटाई के मामले में दिल्ली पुलिस एक बार फिर से सीएम अरविंद केजरीवाल के घर पर जांच करने पहुंची. दिल्ली पुलिस की टीम प्रिंटर और लैपटॉप लेकर सीएम के घर दाखिल हुई और वहां से सीसीटीवी का डीवीआर अपने साथ लेकर बाहर निकली.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक घटना के वक्त का सीसीटीवी फुटेज नहीं मिला है. पुलिस का कहना है कि आरोपी बिभव कुमार जांच में सहयोग नहीं कर रहा है.

आरोपी ने फॉर्मेट किया अपना फोन

इससे पहले शनिवार को दिल्ली पुलिस की ओर से पेश हुए अतिरिक्त लोक अभियोजक अतुल श्रीवास्तव ने कोर्ट को बताया कि हमने डीवीआर मांगा, वह हमें पेन ड्राइव में दिया गया...डीवीआर में कोई फुटेज नहीं मिली.  हमने आरोपी का आईफोन ले लिया है लेकिन वह अब उसका पासवर्ड नहीं बता रहा है. उन्होंने कहा कि फोन को फॉर्मेट कर दिया गया है.

सीसीटीवी फुटेज से की गई छेड़छाड़

अतिरिक्त लोक अभियोजक ने बताया कि आरोपी बिभव कुमार घटना स्थल पर मौजूद था. दिल्ली पुलिस को आशंका है कि सीसीटीवी फुटेज से छेड़छाड़ हुई है.

बिभव कुमार ने फोन किया फॉर्मेट
सूत्रों की मानें तो दिल्ली पुलिस बिभव कुमार को मुंबई लेकर जाएगी. आरोप है कि बिभव ने मुंबई में ही आईफोन को फॉर्मेट किया है. पुलिस को उम्मीद है कि शायह बिभव ने फोन का डेटा कहीं डंप किया हो, क्योंकि जब कुछ छुपाना नहीं होता तो फोन को फॉर्मेट करने से पहले यूजर उसका डाटा अक्सर डंप कर देता है. पुलिस उस डाटा को रिकवर करने की कोशिश करेगी. पुलिस बिभव को क्राइम स्पॉट पर भी लेकर जाएगी, जहां वह मारपीट की वजह जानने की कोशिश करेगी.