menu-icon
India Daily
share--v1

अंतर्राष्ट्रीय ड्रग माफियाओं की साजिश का भंडाफोड़, कनाडा से किताबों और खिलौनों में जरिए आते थे ड्रग्स, डार्क वेब पर डील

हमदाबाद साइबर यूनिट ने अंतर्राष्ट्रीय ड्रग्स माफियाओं की साजिश का भंडाफोड़ किया है. ये माफिया कनाडा से ऑपरेट करते थे.

auth-image
Gyanendra Sharma
अंतर्राष्ट्रीय ड्रग माफियाओं की साजिश का भंडाफोड़, कनाडा से किताबों और खिलौनों में जरिए आते थे ड्रग्स, डार्क वेब पर डील

नई दिल्ली: अहमदाबाद साइबर यूनिट ने अंतर्राष्ट्रीय ड्रग्स माफियाओं की साजिश का भंडाफोड़ किया है. ये माफिया कनाडा से ऑपरेट कर रहे थे. भारत में कई जगहों पर ये ड्रग्स की सप्लाई कर रहे थे. पार्टियों में ऑनलाइन ऑर्डर पर मादक पदार्थ भेजे जाते थे. इसके लिए डार्क वेब से डील होती है.

ये गैंग अपने धंधे के लिए  डार्क वेब और सोशल मीडिया का इस्तेमाल करता था. कनाडा, अमरीका और फ़ुकेत से अंतरराष्ट्रीय कोरियर कंपनी के ज़रिए किताबों और खिलौनों में ड्रग्स मंगवाया जा रहा था. किताब के पन्ने ड्रग्स मैं भिगोकर रखे जाते हैं जिससे किसी को भी शक नहीं होता. किताब डिलीवर होने के बाद पन्नों के बारीक टुकड़ें करके ड्रग्स तैयार होता है. साइबर यूनिट और कस्टम विभाग ने भारी संख्या मैं किताबें और खिलौने पकड़े हैं.

पन्नो को लिक्विड ड्रग्स मैं भिगोया जाता है,यह पन्ने स्टेशनरी या किताब के फॉर्म मैं घर तक डिलीवर होते हैं इसके बाद पन्नो के छोटे छोटे पीस (क्रश) करके ड्रग्स बनाया जाता है. साइबर यूनिट ने ड्रग्स पेडलर्स और ख़रीदने वालो को ट्रेस किया है. ल्द इस धंधे के कुछ बड़े ऑपरेटर भी गिरफ्तार किए जाएंगे.