share--v1

जानें भारत से बाहर किस देश में खुलेगा CBSE का कार्यालय, शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने किया बड़ा ऐलान

CBSE: केंद्रीय शिक्षा और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दुबई में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) का एक कार्यालय खोलने की बात कहीं है.

auth-image
Avinash Kumar Singh

नई दिल्ली: केंद्रीय शिक्षा और कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दुबई में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) का एक कार्यालय खोलने की बात कहीं है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने कहा है कि भारत दुबई में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) का एक कार्यालय खोलने की योजना बना रहा है. धर्मेंद्र प्रधान ने यह ऐलान अपनी अबूधाबी की तीन दिवसीय यात्रा के दौरान की है.

उच्च शिक्षा के लिए फ्रेमवर्क और नीतियां बनाने पर समझौता

केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रधान ने अबू धाबी में संयुक्त अरब अमीरात की प्रारंभिक शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. अहमद अल फलासी और और ज्ञान विभाग (एडीईके) की अध्यक्ष सारा मुसल्लम से मुलाकात की. इस दौरान देशों में शैक्षणिक और कौशल योग्यताओं की पारस्परिक मान्यता को सुविधाजनक बनाने के लिए राष्ट्रीय योग्यता फ्रेमवर्क सहित सामान्य और उच्च शिक्षा के लिए फ्रेमवर्क और नीतियां बनाने पर समझौता हुआ.

संयुक्त अरब अमीरात में खुलेगा सीबीएसई का कार्यालय

इन दोनों नेताओं की बैठक के बाद प्रधान ने कहा कि मुसल्लम के साथ चर्चा आईआईटी दिल्ली-अबू धाबी परिसर की प्रगति को और सुविधाजनक बनाने के लिए भारतीय पक्ष से जरूरी समर्थन, संयुक्त अरब अमीरात में कार्यरत सीबीएसई-संबद्ध भारतीय स्कूलों को एडीईके के समर्थन और सीबीएसई का एक कार्यालय स्थापित करने की हमारी योजना पर केंद्रित थी. भारतीय स्कूलों को यूएई के समर्थन ने यह सुनिश्चित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है कि अमीरात में भारतीय बच्चे भारतीय पाठ्यक्रम और जड़ों से जुड़े रहें. यूएई-भारत के रिश्ते आज बहुत अच्छी और मजबूत स्थिति में हैं.

शिक्षा और कौशल के क्षेत्र में भारत-यूएई के संबंध मजबूत

रणनीतिक साझेदारी और विशेषकर शिक्षा और कौशल के क्षेत्र में भारत और यूएई के बीच मजबूत संबंध हैं. यूएई में एक आईआईटी (भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान) खोल रहे हैं और भारत के कई प्रमुख विश्वविद्यालय पहले ही यहां कार्य कर रहे हैं.आईआईटी दिल्ली-अबू धाबी परिसर भारत-यूएई दोस्ती का एक उदाहरण होगा. प्रधान ने बुधवार को अबू धाबी में आईआईटी दिल्ली के आगामी परिसर का भी दौरा किया. प्रधान ने अबू धाबी इंडियन स्कूल में छात्रों और शिक्षकों के साथ भी बातचीत की.

'शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग को अगले स्तर तक पर जाने के लिए प्रतिबद्ध'

प्रधान ने 'एक्स' पर पोस्ट करते हुए लिखा "आज अबू धाबी में प्रारंभिक शिक्षा राज्य मंत्री और अध्यक्ष (अबू धाबी शिक्षा और ज्ञान विभाग) ADEK सारा मुसल्लम से मिलकर खुशी हुई. शिक्षा में हमारे सहयोग को और बढ़ाने और शिक्षा को हमारे द्विपक्षीय संबंध के सबसे मजबूत स्तंभों में से एक के रूप में स्थापित करने पर सार्थक बातचीत हुई. सारा मुसल्लम और मैं दोनों शिक्षा में अपने सहयोग को अगले स्तर तक ले जाने के लिए प्रतिबद्ध हैं"

यूएई के शिक्षा मंत्री अहमद अल फलासी से प्रधान ने की मुलाकात

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने बुधवार को अबू धाबी में यूएई के शिक्षा मंत्री अहमद अल फलासी से भी मुलाकात की. शिक्षा मंत्रालय के अनुसार "मंत्रियों ने मौजूदा शैक्षिक सहयोग को मजबूत करने समेत तमाम मुद्दों को लेकर समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए. यह दोनों देशों में सामान्य और उच्च शिक्षा में नियमों, कानूनी संरचनाओं और सर्वोत्तम प्रथाओं के क्षेत्रों में जानकारी के आदान-प्रदान की सुविधा भी प्रदान करेगा. एमओयू भारत और यूएई के शिक्षा मंत्रालय के एक प्रतिनिधि की अध्यक्षता में एक संयुक्त कार्य समूह के निर्माण की सुविधा प्रदान करेगा. इस ज्ञापन के कार्यान्वयन की समीक्षा के लिए जेडब्ल्यूजी साल में कम से कम एक बार वैकल्पिक रूप से बैठक करेगा"

धर्मेंद्र प्रधान का 3 दिवसीय संयुक्त अरब अमीरात दौरा

केंद्रीय शिक्षा और कौशल विकास उद्यमिता मंत्री धर्मेंद्र प्रधान 1 से 3 नवंबर 2023 तक संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा पर है. अपनी इस यात्रा के दौरान प्रधान कई प्रमुख मंत्रियों, अधिकारियों, शिक्षाविदों, प्रवासी भारतीयों के प्रतिष्ठित प्रतिनिधियों और व्यापार प्रमुखों से मुलाकात करेंगे और दोनों देशों की शिक्षा और कौशल इकोसिस्‍टम से संबंधित महत्वपूर्ण चर्चाओं में हिस्सा लेंगे. 

यह भी पढ़ें: छत्तीसगढ़ के चुनावी दौरे पर PM मोदी, जानें CM योगी और अमित शाह के धुआंधार चुनाव प्रचार का क्या है प्लान?

First Published : 02 November 2023, 07:54 AM IST