menu-icon
India Daily
share--v1

Bihar Politics: 'नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी को गिरवी रख दी' उपेंद्र कुशवाहा ने सीएम नीतीश पर साधा निशाना

Bihar Politics: पूर्व केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय लोक जनता दल के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी जदयू को लालू प्रसाद यादव के हाथों में गिरवी रख दी है.

auth-image
Purushottam Kumar
Bihar Politics: 'नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी को गिरवी रख दी' उपेंद्र कुशवाहा ने सीएम नीतीश पर साधा निशाना

नई दिल्ली: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी जदयू को लालू प्रसाद यादव के हाथों में गिरवी रख दी है. पूर्व केंद्रीय मंत्री और राष्ट्रीय लोक जनता दल के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने शनिवार देर शाम यह बयान दिया है. दरअसल बांका में आयोजित पार्टी कार्यकर्ता के दौरान उपेंद्र कुशवाहा ने ये बात कही है.

उपेंद्र कुशवाहा ने क्या कहा
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तीखा हमला बोलते हुए उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार ने अपनी पार्टी को लालू प्रसाद यादव के हाथों में गिरवी रख दी है. उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि मैंने हमेशा शोषित, पीड़ित, गरीब और आमजनों की आवाज को उठाने का काम किया है पद के लिए कभी राजनीति नहीं की है. उन्होंने आगे कहा कि आमजनों की आवाज को जब भी दबाया गया, मैंने हमेशा उनकी आवाज उठाने का काम किया है.

ये भी पढ़ें: बिजली विभाग के सीनियर अधिकारियों के लिए योगी सरकार ने जारी किया फरमान, अब करना होगा ये काम वरना…

सेवा के लिए राजनीति- कुशवाहा
उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि हम सत्ता के लिए नहीं बल्कि सेवा के लिए राजनीति करते हैं. सत्ता सुख सुविधा के लिए नहीं बल्कि न्याय दिलाने के लिए होनी चाहिए. उन्होंने कार्यकर्ताओं से पार्टी की नीति और सिद्धांतों के आधार पर काम करने की अपील करते हुए कहा कि ईमानदार कार्यकर्ता वही है जो सत्ता त्याग कर आम लोगों की सुख और दुख में उनका साथ दे.

बढ़ते अपराधों का किया जिक्र
उपेंद्र कुशवाहा ने इशारों इशारों में बढ़ते अपराधों का जिक्र करते हुए सवाल किया कि 2005 के पहले का बिहार बनाना चाहते हैं या नया बिहार ये फैसला आपको करना है. उन्होंने कहा बिहार में एक बार फिर से पुराना मंजर दिखने लगा है. उन्होंने बिहार में अपनी पार्टी राष्ट्रीय लोक जनता दल को विकल्प बताते हुए कहा कि है उपेंद्र कुशवाहा ने अपना रास्ता जरूर बदला है, लक्ष्य नहीं.

ये भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर में भी यूपी जैसा मामला, ब्लैक बोर्ड पर 'जय श्री राम' लिखने पर बच्चे को बेरहमी से पीटा, पुलिस ने दर्ज किया मामला