menu-icon
India Daily
share--v1

भारत की बड़ी जीत, जी20 की साझा घोषणा पत्र पर बनी सहमति

रूस-यूक्रेन युद्ध को लेकर चल रही चुनौतियों के बीच G20 नेताओं ने शनिवार को G20 शिखर सम्मेलन में राष्ट्रों की एक संयुक्त घोषणा को अपनाया.

auth-image
Gyanendra Sharma
भारत की बड़ी जीत, जी20 की साझा घोषणा पत्र पर बनी सहमति

नई दिल्ली: रूस-यूक्रेन युद्ध को लेकर चल रही चुनौतियों के बीच G20 नेताओं ने शनिवार को G20 शिखर सम्मेलन में राष्ट्रों की एक संयुक्त घोषणा को अपनाया. शनिवार को दूसरे सेशन की शुरुआत में प्रधानमंत्री मोदी ने बतौर अध्यक्ष यह जानकारी दी. उन्होंने सभी सदस्य देशों की सहमति से नई दिल्ली डिक्लेरेशन पाारित कर दिया.

पीएम मोदी ने कहा- “मुझे अच्छी खबर मिली है. हमारी टीम की कड़ी मेहनत के कारण  नई दिल्ली जी20 नेताओं के शिखर सम्मेलन घोषणा पर आम सहमति बन गई है. मेरा प्रस्ताव इस नेतृत्व घोषणा को अपनाने का है. मैं इस घोषणा पत्र को अपनाने की घोषणा करता हूं. मेरे शेरपा, मंत्रियों को बधाई, जिन्होंने इसके लिए कड़ी मेहनत की और इसे संभव बनाया.”


दिल्ली घोषणापत्र में कुल 112 मुद्दों को शामिल किया गया है. यह जी20 में अब तक का सबसे विस्तृत और व्यापक घोषणा पत्र है. इस बार की बैठक में पिछले घोषणापत्रों से ज्यादा मुद्दों पर सहमति बनी है.

समिट के पहले सेशन में प्रधानमंत्री ने अफ्रीकन यूनियन को G20 का परमानेंट मेंबर बनाने का प्रस्ताव रखा था. बतौर अध्यक्ष PM मोदी ने जैसे ही इसे पारित किया, अफ्रीकन यूनियन के हेड अजाली असोमानी ने जाकर PM मोदी के गले लगा लिया. भारत के प्रस्ताव का चीन और यूरोपियन यूनियन ने भी समर्थन किया.