share--v1

Bharat Ratna: भारत रत्न को लेकर सामने आया ये पेंच, कैसे मिल गया पांच लोगों को यह सम्मान 

Bharat Ratna: केंद्र सरकार द्वारा साल 2024 में 5 लोगों को भारत रत्न देने का ऐलान किया है. इसको लेकर सोशल मीडिया पर लोगों की तरह-तरह प्रतिक्रिया मिल रही है. आईए जानते हैं इसका नियम.

auth-image
India Daily Live
फॉलो करें:

Bharat Ratna: देश के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह, पीवी नरसिंहा राव और कृषि वैज्ञानिक एमएस स्वामीनाथन को भारत रत्न से सम्मानित किया गया है. केंद्र सरकार ने ये सम्मान तीनों लोगों को मरणोपरांत देने की घोषणा की है. वहीं पिछले दिनों देश के पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवानी और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री कर्पूरी ठाकुर को भी भारत रत्न से सम्मानित किया गया था.

लोगों ने सरकार पर लगाया आरोप

केंद्र सरकार द्वारा साल 2024 में पांच लोगों को भारत रत्न से नवाजा गया है. इसको लेकर हर सोशल मीडिया पर लोग सरकार की निंद कर रहे हैं. बहुत से लोगों का कहना है कि सरकार ने चुनाव को देखते हुए भारत रत्न देने का ऐलान किया है. एक यूजर ने लिखा है कि भारत रत्न नियम के अनुसार तो एक वर्ष में तीन लोगों को दिया जा सकता है. तो फिर सरकार ने कैसे पांच लोगों को यह सम्मान दे दिया गया.

भारत रत्न को लेकर ये है नियम

भारत रत्न के नियम को देखें तो एक साल में तीन लोगों को ही भारत रत्न दिया जा सकता है लेकिन उसमें एक बात ये भी शामिल है कि बिते वर्ष किसी को भारत रत्न नहीं दिया गया तो बैक लॉग के तहत इस वर्ष में उनको भारत रत्न से सम्मानित किया जा सकता है. हालांकि ये पहला मामला नहीं है इससे पहले भी एक साल में तीन से ज्यादा लोगों को भारत रत्न से सम्मानित किया जा चुका है. साल 1999 में केंद्र सरकार ने एक साल में ही चार लोगों को भारत रत्न से सम्मानित किया था. 

Also Read

First Published : 09 February 2024, 09:29 PM IST