menu-icon
India Daily
share--v1

'ध्रुव राठी के वीडियो के बाद मुझे मिल रहीं रेप और जान से मारने की धमकियां', स्वाति मालीवाल का बड़ा आरोप

स्वाति मालीवाल ने कहा कि ध्रुव राठी अपने आपको स्वतंत्र पत्रकार कहते हैं लेकिन वह आप के प्रवक्ता के तौर पर काम कर रहे हैं

auth-image
India Daily Live
Swati Maliwal
Courtesy: Social media

अरविंद केजरीवाल के पीए बिभव कुमार से चल रहे विवाद के बीच अब आप सांसद स्वाति मालीवाल ने यूट्यूबर ध्रुव राठी के खिलाफ ट्विटर पर एक लंबा चौड़ा पोस्ट लिखा है. उन्होंने कहा कि वह अपने आपको एक स्वतंत्र पत्रकार कहते हैं लेकिन वह आपके प्रवक्ता के तौर पर काम कर रहे हैं.  मालीवाल ने आरोप लगाया कि ध्रुव राठी द्वारा बनाए गए एकतरफा वीडियो के बाद उन्हें रेव और जान से मारने की धमकियां मिल रही हैं.

उन्होंने कहा, 'मेरी पार्टी के नेताओं और स्वयंसेवकों ने मेरे खिलाफ चरित्र हनन, पीड़िता को शर्मिंदा करने और भावनाओं को भड़काने का अभियान चलाया है. इसके बाद मुझे बलात्कार और मौत की धमकियां मिल रही हैं. यह तब और बढ़ गया जब ध्रुव राठी ने मेरे खिलाफ एकतरफा वीडियो पोस्ट किया. वे (AAP) मुझे अपनी शिकायत वापस लेने के लिए डराने की कोशिश कर रेह हैं. मैंने ध्रुव से अपना पक्ष बताने की कोशिश की लेकिन उन्होंने मेरी कॉल और मेरे मैसेज को नजरअंदाज कर दिया.'

आप के प्रवक्ता की तरह काम कर रहे ध्रुव
आप की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल ने आगे कहा, 'यह शर्मनाक है कि उनके जैसे लोग, जो स्वतंत्र पत्रकार होने का दावा करते है वे आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता की तरह काम कर सकते हैं और मुझे इस हद तक पीड़ित बना सकते हैं कि मुझे अब अत्यधिक दुर्व्यवहार और धमकियों का सामना करना पड़ रहा है.'

स्वाति मालीवाल ने अपने ट्वीट में कुछ तथ्यों को भी रखा और कहा कि ध्रुव राठी ने उनके ऊपर जो वीडियो बनाया उसमें इन तथ्यों को नहीं रखा गया...
1. पहले पार्टी ने मेरे साथ हुए दुर्व्यवहार की बात को स्वीकार किया फिर बाद में यू-टर्न ले लिया.

2. एमएलसी रिपोर्ट में मारपीट से चोट लगने की बात सामने आई है.

3.  वीडियो का चुनिंदा हिस्सा जारी किया गया और फिर आरोपी का फोन फॉर्मेट कर दिया गया?

4. आरोपी को मौका-ए-वारदात (सीएम हाउस) से गिरफ्तार कर लिया गया. उसे फिर से उस स्थान में प्रवेश करने की अनुमति क्यों दी गई? सबूतों से छेड़छाड़ के लिए?

5. एक महिला जो हमेशा सही मुद्दों के लिए खड़ी रही, यहां तक ​​कि बिना सुरक्षा के अकेले मणिपुर भी गई, उसे भाजपा ने कैसे खरीद लिया?

मालीवाल ने कहा कि जिस तरह से पूरी पार्टी मशीनरी और उसके समर्थकों ने मुझे बदनाम करने और शर्मिंदा करने की कोशिश की है, वह महिलाओं के मुद्दों पर उनके रुख को दर्शाता है. मालीवाल ने आगे कहा, 'मैं बलात्कार और मौत की धमकियों की रिपोर्ट दिल्ली पुलिस से कर रही हूं. मुझे उम्मीद है कि अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.' मालीवाल ने चेतावनी दी कि अगर मेरे साथ कुछ होता है तो यह समझ सकते हैं कि इन्हें किसने उकसाया है.