menu-icon
India Daily
share--v1

मुख्तार अंसारी पर खर्च 55 लाख रुपए वसूलेगी AAP सरकार, पंजाब के इन दो नेताओं को भेजा गया नोटिस

Punjab Politics: पंजाब की जेल में काफी वक्त तक बंद रहे यूपी के गैंगस्टर और नेता मुख्तार अंसारी को राज्य की जेल में रखने के लिए 55 लाख रुपए खर्च किए गए थे. जिसे लेकर अब पंजाब के मुखिया भगवंत मान ने राज्य के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और पूर्व जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा से इस राशि को वसूलने की बात कही है.

auth-image
Purushottam Kumar
मुख्तार अंसारी पर खर्च 55 लाख रुपए वसूलेगी AAP सरकार, पंजाब के इन दो नेताओं को भेजा गया नोटिस

नई दिल्ली: पंजाब की जेल में काफी वक्त तक बंद रहे यूपी के गैंगस्टर और नेता मुख्तार अंसारी को राज्य की जेल में रखने के लिए 55 लाख रुपए खर्च किए गए थे. जिसे लेकर अब पंजाब के मुखिया भगवंत मान ने राज्य के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह और पूर्व जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा से इस राशि को वसूलने की बात कही है. इस मामले में पंजाब सरकार की ओर से अमरिंदर सिंह और सुखजिंदर सिंह रंधावा को बसूली के लिए एक नोटिस भी भेज दिया गया है.

नोटिस भेजकर 15 दिन में मांगा जवाब
पंजाब सरकार द्वारा भेजे गए नोटिस में कहा गया है कि मुख्तार अंसारी के लिए सीनियर वकील को भुगतान की गई राशि आप दोनों से वसूल की जानी चाहिए क्योंकि आपने उन्हें इस मामले में एक वकील के रूप में नियुक्त करने का प्रस्ताव दिया है और मंजूरी भी दे दी गई थी. इस नोटिस में आगे कहा गया है कि आपको 15 दिनों में कारण बताने के लिए कहा जाता है कि ये राशि आपसे क्यों नहीं वसूली जाए.

ये भी पढ़ें:

भुगतान नहीं करने पर रोकी जाएगी पेंशन 
सीएम भगवंत मान ने सख्त लहजे में कहा है कि अगर इस राशि का भुगतान नहीं किया गया तो पंजाब सरकार द्वारा उनकी पेंशन समेत अन्य लाभ को रोक दिया जाएगा. इस पूरे मामले पर सुखजिंदर सिंह रंधावा का बयान सामने आया है, उन्होंने कहा है कि वो सीएम भगवंत मान के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज कराएंगे.

क्या है पूरा मामला
दरअसल एक मामले में सजा मिलने के बाद मुख्तार अंसारी को जनवरी 2019  से लेकर अप्रैल 2021 कर पंजाब की रूपनगर जेल में रखा गया था. हालांकि बाद में पंजाब सरकार ने मुख्तार अंसारी को  कोर्ट के आदेश पर यूपी पुलिस को सौंप दिया था. फिलहाल मुख्तार अंसारी यूपी के बांदा जेल में बंद है.

ये भी पढ़ें: