menu-icon
India Daily
share--v1

Rajasthan: विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को तगड़ा झटका, कई पूर्व विधायकों समेत 16 लोग बीजेपी में हुए शामिल

Rajasthan Politics: बीजेपी में शामिल होने वाले लोगों में कांग्रेस नेता मृदुरेखा चौधरी का नाम शामिल है.

auth-image
Sagar Bhardwaj
Rajasthan: विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को तगड़ा झटका, कई पूर्व विधायकों समेत 16 लोग बीजेपी में हुए शामिल

 नई दिल्ली: आगामी राजस्थान विधानसभा चुनाव से पहले शनिवार को पूर्व विधायकों, राज्य के पूर्व पुलिस प्रमुख समेत कुल 16 लोगों ने भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया. बता दें कि इस साल के अंत में राजस्थान में विधानसभा के चुनाव होने हैं.

मीडिया से बात करते हुए राजस्थान बीजेपी प्रभारी अरुण सिंह ने कहा कि बड़ी संख्या में लोग बीजेपी पर अपना भरोसा जता रहे हैं. उन्होंने राज्य में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों के लिए कांग्रेस पर निशाना साधा.

पूर्व विधायक बीजेपी में हुए शामिल

बीजेपी में शामिल होने वाले लोगों में पूर्व विधायक मोतीलाल खरेरा, अनिता कटारा और गोपीचंद गुर्जर के साथ-साथ सेवानिवृत्त न्यायाधीश किशन लाल गुर्जर, मध्य प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक (DGP) पवन कुमार जैन और कांग्रेस नेता मृदुरेखा चौधरी का नाम शामिल है.

'बीजेपी की नीतियों पर भरोसा जता रहे लोग'

सिंह ने कहा कि 16 नेताओं के अलावा सैड़कों कार्यकर्ता आज बीजेपी में शामिल हुए. उन्होंने कहा इससे पहले भी कई लोग बीजेपी में शामिल हो चुके हैं और यह सिलसिला आगे भी जारी रहेगा क्योंकि लोग पार्टी की नीतियों और कार्यक्रमों पर भरोसा जता रहे हैं.

'कांग्रेस राज में महिलाओं के खिलाफ बढ़े अपराध'

उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार में राज्य में महिलाओं के खिलाफ अपराध, बेरोजगारी बढ़ी है. यही नहीं कांग्रेस सरकार में कई सरकारी परीक्षाएं लीक हो गईं, किसानों की जमीन की नीलामी हुई. यही वजह है कि लोग कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हो रहे हैं.

'स्मार्टफोन बांटने के बजाय महिला सुरक्षा पर ध्यान दे सरकार'
गहलोत सरकार द्वारा राज्य की महिलाओं को मोबाइल फोन बांटे जाने को लेकर विपक्ष के नेता राजेंद्र राठौड़ ने कहा कि महिलाओं को स्मार्टफोन बांटने के बजाय राज्य सरकार को महिलाओं की सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए. 

उन्होंने कहा कि राज्य में कोई कानून-व्यवस्था नहीं है. भ्रष्टाचार चरम पर है, पेपर लीक होने से युवा परेशान हैं. सरकार किसानों की कर्ज मांफी के बादे को पूरा करने में विफल रही है जिसके कारण किसानों की जमीनों की नीलामी हो रही है.

यह भी पढ़ें: Rajasthan: जैसलमेर में पलटा BSF का ट्रक, 1 जवान की मौत 16 घायल, 5 की हालत गंभीर