menu-icon
India Daily
share--v1

Uttar Pradesh Raebareli Lok Sabha Seat results 2024: राहुल गांधी या फिर दिनेश प्रताप सिंह? आखिर कौन बना रायबरेली की जनता का किंग?

Uttar Pradesh Raebareli Lok Sabha Seat results 2024: उत्तर प्रदेश की रायबरेली की लोकसभा सीट पर जहां इंडिया गठबंधन की ओर से राहुल गांधी मैदान में उतरे हैं तो वहीं पर बीजेपी ने भी अपने कद्दावर नेता दिनेश प्रताप सिंह को मैदान में उतारा है. वैसे तो रायबरेली कांग्रेस की पारंपरिक सीट रही है जहां उसे अक्सर जीत मिली है लेकिन दिनेश प्रताप सिंह को राहुल गांधी के खिलाफ उतार बीजेपी ने बड़ा चुनावी दांव लगाया है. आइये एक नजर इस सीट के नतीजों पर डालते हैं

auth-image
India Daily Live
Raebareli
Courtesy: IDL

Uttar Pradesh Raebareli Lok Sabha Seat results 2024: 18वीं लोकसभा के लिए हुए मतदान के नतीजे धीरे-धीरे आते जा रहे हैं. इस बीच यूपी की रायबरेली सीट पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने करीब 4 लाख वोटों से जीत हासिल कर ली है. वहीं बीजेपी के दिनेश प्रताप सिंह को करीब 3 लाख वोट ही मिल सके हैं.

2024 में किसके बीच है मुकाबला?

कांग्रेस की दूसरी पारंपरिक सीट पर सोनिया गांधी के बजाय उनके बेटे राहुल गांधी को कांग्रेस ने उम्मीदवार के तौर पर उतारा है, वहीं बीजेपी ने दिनेश प्रताप सिंह को उनके खिलाफ मैदान में उतारा है.

जातीय समीकरण

इस लोकसभा सीट पर करीब 24,03,705 वोटर्स हैं जिसमें हिंदू जनसंख्या 90 से 95 प्रतिशत तो वहीं मुसलमान वोटर्स की जनसंख्या 5 से 10 प्रतिशत है. जातीय समीकरण की बात करें तो यहां पर ईसाई, सिख, बौद्ध, जैन वर्ग से आने वाले वोटर्स 5 प्रतिशत के अंदर आते हैं. कैटेगरी की बात करें तो यहां पर 30 प्रतिशत अनुसूचित जाति तो वहीं 70 प्रतिशत वोटर्स जनरल वर्ग से आते हैं. यहां की 11 प्रतिशत आबादी शहरी इलाकों से हैं तो वहीं पर 89 प्रतिशत आबादी ग्रामीण इलाकों से हैं.

2019 में कौन जीता था?

साल 2019 के लोकसभा चुनाव में रायबरेली लोकसभा सीट पर बीजेपी प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह और कांग्रेस उम्मीदवार सोनिया गांधी के बीच मुकबला देखने मिला था. जिसमें सोनिया गांधी ने 534,918 वोट यानी की 55.80 फीसदी  वोटों के साथ अपनी जीत दर्ज करवाई थी. वहीं बीजेपी प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह ने 367,740 वोट यानी की 38.36 फीसदी वोटों के साथ दूसरे स्थान पर रह गए थे. पिछले आम चुनावों में जीत का अंतर महज 1,67, 178 वोटों का ही था.

लोकसभा सीट का इतिहास

रायबरेली की पारंपरिक सीट पर शुरू से ही कांग्रेस का कब्जा देखने को मिला है और यहां पर सिर्फ दो बार ही गैर कांग्रेसी पार्टी के उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है. पहली बार 1977 में जनता पार्टी के राज नारायण ने जीत हासिल की थी तो वहीं आखिरी बार भारतीय जनता पार्टी के अशोक सिंह (1996, 1998) ने जीत हासिल की थी. कांग्रेस के लिए यहां फिरोज गांधी (1952, 1957), आरपी सिंह (1960), बृजनाथ कुरील (1962), इंदिरा गांधी (1962, 1967, 1971, 1980), अरुण नेहरु (1980, 1984), शीला कौल (1989, 1991), सतीश शर्मा (1999) और सोनिया गांधी (2004, 2006, 2009, 2014, 2019) ने जीत हासिल की है.