menu-icon
India Daily
share--v1

'भगवान जगन्नाथ मोदी के भक्त', संबित पात्रा ने किया ऐसा कांड, विपक्ष ने लताड़ा, अब 3 दिन करेंगे प्रायश्चित

संबित पात्रा, पुरी से लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं. उन्होंने एक ऐसा बयान दिया है, जिस पर बीजेडी समेत देश की कई राजनीतिक पार्टियां हमलावर हैं. आइए समझते हैं विवाद क्या है.

auth-image
India Daily Live
Sambit Patra and PM Narendra Modi
Courtesy: Facebook/BJP

Lok Sabha Elections 2024: भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय प्रवक्ता और पुरी लोकसभा क्षेत्र से उम्मीदवार संबित पात्रा ने भगवान जगन्नाथ को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) का भक्त बता दिया है. संबित पात्रा के बयान के बाद ही ओडिशा में हंगामा बरपा है. खुद ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने बीजेपी और संबित पात्रा पर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि भगवान जगन्नाथ को किसी इंसान का भक्त कहना भगवान का अपमान है. जब बवाल बढ़ा तो संबित पात्रा ने कहा कि उनकी जुबान फिसल गई थी. 

संबित पात्रा सोमवार को भगवान जगन्नाथ की नगरी पुरी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो में हिस्सा ले रहे थे, तभी वे ऐसा बयान दे बैठे जिसकी वजह से पार्टी की किरकिरी हो गई.  संबित पात्रा का यह बयान, पार्टी के लिए मुसीबत बन गया है. सोशल मीडिया पर लोग लिख रहे हैं कि बीजेपी का बस चले तो पीएम मोदी को नया भगवान बना दे.

पीएम नरेंद्र मोदी सोमवार को पुरी गए थे. वे करीब 7.30 बजे भुवनेश्वर से पुरी के लिए रवाना हुए और भगवान जगन्नाथ, उनके भाई बलभद्र और देवी सुभद्रा का दर्शन किया. मंदिर में पूजा-अर्चना करने के बाद पीएम मोदी ने पुरी सीट से पार्टी उम्मीदवार संबित पात्रा के साथ रोड शो शुरू किया.

रोड शो के बाद, संबित पात्रा ने मीडिया से कहा कि पुरी के इष्टदेव भगवान जगन्नाथ, मोदी के भक्त हैं. उन्होंने कहा था, 'पीएम मोदी को देखने के लिए यहां लाखों की संख्या में लोग जुटे हैं. जगन्नाथ मोदी के भक्त हैं और हम सभी पीएम मोदी के परिवार हैं. मैं अपनी भावनाओं को नियंत्रित नहीं कर सकता और मुझे लगता है कि आज सभी ओडिया लोगों के लिए एक महत्वपूर्ण दिन है.'

संबित पात्रा की गलती के वजह से ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और कांग्रेस ने उन्हें जमकर फटकार लगाई. दुनिया भर में भगवान जगन्नाथ के भक्त इससे आहत हुए. सोशल मीडिया पर लोगों ने संबित पात्रा को जमकर ट्रोल किया.

X पर नवीन पटनायक ने पोस्ट किया, 'महाप्रभु श्री जगन्नाथ ब्रह्मांड के भगवान हैं. महाप्रभु को दूसरे मनुष्य का भक्त कहना भगवान का अपमान है. इससे भावनाएं आहत हुई हैं और दुनिया भर में करोड़ों जगन्नाथ भक्तों और उड़िया लोगों की आस्था को ठेस पहुंची है. भगवान उड़िया अस्मिता के सबसे महान प्रतीक हैं. महाप्रभु को दूसरे इंसान का भक्त कहना पूरी तरह से निंदनीय है. मैं भाजपा पुरी लोकसभा उम्मीदवार द्वारा दिए गए बयान की कड़ी निंदा करता हूं और मैं भाजपा से भगवान को किसी भी राजनीतिक प्रवचन से ऊपर रखने की अपील करता हूं. ऐसा करके आपने ओडिया अस्मिता को गहरी चोट पहुंचाई है और इसे ओडिशा के लोग लंबे समय तक याद रखेंगे और इसकी निंदा करेंगे.'
 

ओडिशा कांग्रेस के प्रभारी डॉ. अजय कुमार ने कहा कि देश और ओडिशा, भगवान जगन्नाथ का यह अपमान बर्दाश्त नहीं करेगा. उन्होंने कहा, 'क्या मीडिया संबित पात्रा से कोई सवाल पूछेगा? शाम 7 बजे के एजेंडे वाले वे पत्रकार कहां हैं? वे हिंदुत्व संगठन कहां चले गए.'

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित कई इंडिया ब्लॉक के नेताओं ने संबित पात्रा को फटकार लगाई. संबित पात्रा ने माफी मांगते हुए कहा कि उनकी जुबान फिसल गई थी, गलती हो गई.
 

संबित पात्रा ने कहा, 'आज पुरी में श्री नरेंद्र मोदीजी के रोड शो की भारी सफलता के बाद मैंने आज कई मीडिया चैनलों को कई बाइट्स दीं.हर जगह मैंने उल्लेख किया कि मोदी श्रीजगन्नाथ महाप्रभु के भक्त हैं. संबित पात्रा ने नवीन पटनायक के जुबानी हमले पर कहा कि कभी-कभी जुबान फिसल जाती है, इसे राजनीतिक मुद्दा न बनाया जाए.