menu-icon
India Daily
share--v1

'मुझे प्रधानमंत्री की चिंता हो रही है...', मुजरा, मंगलसूत्र और भैंस वाले बयानों पर भड़क गए RJD के मनोज झा

मनोझ झा ने कहा कि पीएम मोदी कहते हैं कि मैं दैवीय रास्ते से आया हूं, मेरा बायोलॉजिकल जन्म नहीं हुआ है. अगर कोई भी इंसान ऐसी बातें करे तो मैं कहूंगा कि उसे इलाज की जरूरत है.

auth-image
India Daily Live
manoj jha
Courtesy: ani

लोकसभा चुनाव के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. पक्ष-विपक्ष के नेता एक-दूसरे पर जमकर निशाना साध रहे हैं. बिहार के पाटलिपुत्र में प्रधानमंत्री मोदी के मुजरा वाले बयान पर आरजेडी नेता मनोज झा जमकर बरसे. झा ने कहा कि वह पहले प्रधानमंत्री से असमत होते थे लेकिन अब उन्हें उनकी चिंता होने लगी है. भैंस, मंगलसूत्र, मछली, मटन और अब मुजरा... आखिर कौन सी फिल्में देख-देखकर प्रधानमंत्री के डायलॉग लिखे जा रहे हैं? 

'पूरी दुनिया में ये क्या मैसेज जा रहा है'

एक मीडियाकर्मी से बातचीत के दौरान झा ने कहा कि प्रधानमंत्री पर निराशा हावी हो गई है इस वजह से वह नल उखाड़ लेंगे, बिजली काट देंगे, मंगलसूत्र छीन लेंगे और भैंस खोलकर ले जाएंगे जैसी अंट-शंट बातें बोल रहे हैं. झा ने कहा,  'दुनिया में क्या सोचा जा रहा होगा कि मेरे देश के प्रधानमंत्री की राजनीतिक जुबान कैसी है.'

पीएम मोदी को बेहतर इलाज की जरूरत
मनोझ झा ने कहा कि पीएम मोदी कहते हैं कि मैं दैवीय रास्ते से आया हूं, मेरा बायोलॉजिकल जन्म नहीं हुआ है. अगर कोई भी इंसान ऐसी बातें करे तो मैं कहूंगा कि उसे इलाज की जरूरत है.

देश के लोकतंत्र को तार-तार कर दिया
आरजेडी सांसद ने कहा कि बिहार में पांच चरणों के चुनाव के बाद बदलाव की बयार बह रही है. पीएम मोदी असल मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए टोटी, लोटा, भैंस, बिजली काटने, मंगलसूत्र छीनने की बात कर रहे हैं. उन्हें एक बेहतर इलाज की जरूर है. उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को चुनाव में हार साफ दिखाई दे रही है इसलिए वह इस तरह की भाषा बोल रहा है जो जनता के मुद्दों और जनता के हितों से अलग है. मनोज झा ने कहा, 'प्रधानमंत्री मोदी ने लोकतंत्र को तार-तार कर दिया है. उन्होंने जिस तरह की भाषा का प्रयोग किया है उन्हें खुद नहीं पता कि इस लोकतंत्र को रिपेयर करने में कितना वक्त लगेगा.'