menu-icon
India Daily
share--v1

भाजपा को 400 सीटें नहीं मिलेंगी...प्रशांत किशोर ने बता दिया लोकसभा चुनाव में किसकी होगी जीत?

प्रशांत किशोर ने कहा कि पिछले 5-6 महीनों में मुझे ऐसा कुछ भी नहीं दिखा जिससे मैं अपना आकलन बदल सकूं.

auth-image
India Daily Live
Prashant Kishor

लोकसभा चुनाव के परिणामों को लेकर लोगों में भारी उत्सुकता देखी जा रही है. अभी तीन चरणों का चुनाव होना बाकी है लेकिन लोग अभी से तमाम पार्टियों और उनके उम्मीदवारों की हार जीत का गणित बिठाने में जुट गए हैं. तमाम अफवाहों को धता बताते हुए राजनीतिक रणनीतिकार प्रशांत किशोर लोकसभा चुनाव का परिणाम घोषित कर दिया है.

फिर से सत्ता में आ रही बीजेपी
प्रशांत किशोर की भविष्यवाणी से बीजेपी के समर्थकों की बांछें खिल सकती है. किशोर ने कहा कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी नीत एनडीए को भारी फायदा होने जा रहा है. उन्होंने कहा कि आखिरी 5-6 महीने में ऐसा कुछ भी नहीं बदला है जिससे बीजेपी के विरोध में हवा बही हो. उन्होंने कहा कि यह बता पाना मुश्किल है कि किस पार्टी को कितनी सीटें मिलेंगी.

तेलंगाना स्थित आरटीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में प्रशांत किशोर ने कहा कि कभी-कभी हमें संख्या बताने पर मजबूर किया जाता है...लेकिन यह केवल एक अनुमान है. कोई नहीं जानता कि किस पार्टी को कितनी सीटें मिलेंगी.

भाजपा-एनडी को बड़ी बढ़त
हालांकि प्रशांत किशोर ने माना कि इस चुनाव में भाजपा नीत एनडीए को भारी फायदा होने जा रहा है. किशोर ने कहा कि मैंने जो पहले कहा वही फिर से कह रहा हूं कि इस चुनाव में भाजपा नीत एनडीए के पास बड़ी बढ़त है. पिछले 5-6 महीने में मैंने ऐसा कुछ नहीं देखा जिससे कि मैं अपने इस दावे को बदल सकूं. उन्होंने कहा कि जमीनी तौर पर मुझे किसी बड़े उलटफेर की संभावना नहीं लग रही है.

विपक्ष का होना बेहद जरूरी
प्रशांत किशोर ने जोर देकर कहा कि जिस देश में 60 करोड़ से ज्यादा लोग 100 रुपए से ज्यादा नहीं कमा पाते वहां विपक्ष का होना बेहद जरूरी है. सरकार के खिलाफ विपक्ष कभी भी कमजोर नहीं हो सकता.

भाजपा को नहीं मिलेंगी 400 सीटें
प्रशांत किशोर ने कहा कि भाजपा को इस चुनाव में 400 सीटें नहीं मिलेंगी. केवल माहौल बनाने के लिए पार्टी के शीर्ष नेताओं ने इस नारे को गढ़ा है. उन्होंने कहा कि इस चुनाव में भाजपा को कम से कम 303 सीटें मिल सकती है.

भाजपा को हारने के लिए 100 सीटें खोनी होंगी

किशोर ने कहा कि भाजपा को इस चुनाव में हार के लिए उत्तर और दक्षिण भारत में कम से कम 100 सीटें गंवानी होंगी लेकिन ऐसा नहीं होने जा रहा है. उन्होंने कहा कि तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में भाजपा को सीटों का फायदा होगा. ऐसे में हम कैसे कह सकते हैं कि भाजपा हार रही है.