share--v1

Lok Sabha Elections 2024 : चंड़ीगढ़ में फाइव स्टार होटलों में नहीं रुक सकेंगे पार्टी के स्टार प्रचारक, चुनाव आयोग ने चलाया चाबुक

Lok Sabha Elections 2024 : चंड़ीगढ़ में चुनाव विभाग ने होटल के कमरों में नेताओं और स्टार प्रचारकों को रोकने को लेकर प्रेसीडेंशियल सुइट का किराया 4200 तय कर दिया है. कांग्रेस ने चुनाव विभाग के इस आदेश का विरोध किया है. वहीं बीजेपी ने आयोग के रेट चार्ट को सही ठहराया है.

auth-image
Pankaj Soni

Lok Sabha Elections 2024: चंडीगढ़ में लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार करने आने वाले स्टार प्रचारक अब फाइव स्टार होटलों के मजे नहीं कर पाएंगे. दरअसल चुनाव आयोग ने स्टार प्रचारकों के होटलों में रुकने के लिए रेट तय कर दिए हैं. आयोग के द्वारा तय रेट के हिसाब से अधिकतम 4200 रुपये का कमरा ही स्टार प्रचारक चंडीगढ़ में रुकने के लिए ले सकेंगे. चंडीगढ़ में फाइव स्टार होटलों में प्रेसिडेंशियल सूट का किराया 10 हजार रुपए से शुरू होकर एक लाख तक रहता है.

इतना मंहगा किराया होने के चलते सभी दलों को चंडीगढ़ में स्टार प्रचारकों को लाने में मुश्किल हो सकती है. चुनाव आयोग के किराया तय करने के फैसले का कांग्रेस ने विरोध किया है. वहीं बीजेपी का कहना है कि हमारे स्टार प्रचारक कार्यकर्ता ही हैं वो सस्ते कमरों और बीजेपी कार्यकर्ताओं के घरों में भी रुक सकते हैं.

4200 तक के सुइट में रूक सकते हैं सीनियर नेता

चुनाव आयोग के द्वारा जारी नए आदेश के अनुसार लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान चंडीगढ़ में आने वाले स्टार प्रचारक और सीनियर नेता अधिकतम 4200 रुपये किराए के रूम में रुक सकते हैं. चंडीगढ़ प्रशासन के चुनाव विभाग ने उम्मीदवारों के द्वारा चुनाव प्रचार में प्रयोग कि जाने वाली वस्तुओं के दाम तय कर दिए हैं.  

कमरों और सुइट का किराया तय किया 

चुनाव आयोग ने होटल के कमरों में नेताओं और स्टार प्रचारकों को रोकने को लेकर प्रेसीडेंशियल सुइट का किराया 4200 तय किया है. सुपर डीलक्स रूम का किराया 3700 तय किया है. डीलक्स रूम का किराया ₹3000 तय किया गया है. सेमी डीलक्स रूम का किराया 2000 रुपए तय किया गया है. सिंगल बेड वाले एसी रूम का किराया ₹1100 तय किया गया है. वहीं सिंगल बेड वाले बिना एसी के रूम का किराया ₹800 तय किया है.

आयोग के फैसले का कांग्रेस ने किया विरोध 

चुनाव आयोग के द्वारा कमरे का किराया तय किए जाने का कांग्रेस ने विरोध किया है. चंडीगढ़ कांग्रेस अध्यक्ष एच. एस. लकी ने कहा कि कांग्रेस चुनाव प्रचार करने के लिए फिल्म अभिनेता और दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों को चंडीगढ़ में बुलाएगी. ऐसे में चुनाव आयोग को अपने फैसले पर पुनर्विचार करना चाहिए. लकी ने कहा कि चंडीगढ़ में एकमात्र चंडीगढ़ प्रशासन का यूटी गेस्ट हाउस रहने लायक है, लेकिन वहां के कमरे चुनाव के दौरान आचार संहिता लागू होने की वजह से राजनेताओं को नहीं दिए जाते. ऐसे में 4200 में किसी भी होटल में प्रेसिडेंशियल सुइट या बढ़िया कमरा मिलना मुश्किल है.

बीजेपी ने लगाए ये आरोप 

चंडीगढ़ बीजेपी अध्यक्ष जितेंद्र पाल मल्होत्रा ने चुनाव विभाग के रेट चार्ट को सही ठहराया है.  साथ ही कहा कि किसी भी पार्टी का कोई स्टार प्रचारक आए, फिल्म अभिनेता आए या फिर कोई भी बड़ा चेहरा आखिर वो पार्टी का कार्यकर्ता होता है. पार्टी कार्यकर्ता एक सामान्य होटल के रूम में रुक सकता है. साथ ही अगर चाहे तो बीजेपी कार्यकर्ताओं और नेताओं के घर पर जाकर भी रह सकता है. लेकिन कांग्रेस ने जिस तरह से देश को लूटा है तो अब उन्हें अपने पैसे को कहीं ना कहीं इस्तेमाल में लाना ही है.

Also Read