menu-icon
India Daily
share--v1

पश्चिम बंगाल में डंके की चोट पर क्या गारंटी दे आए पीएम नरेंद्र मोदी, जो ममता बनर्जी के लिए खतरा?

पश्चिम बंगाल के बैरकपुर में ममता सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी सरकार हिंदुत्व विरोधी है, टीएमसी पश्चिम बंगाल में रामनवमी नहीं मनाने देती है.

auth-image
India Daily Live
Narendra Modi vs Mamata Banerjee
Courtesy: India Daily Live

Lok Sabha Elections 2024: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल दौरे पर हैं. उन्होंने उत्तर 24 परगना जिले के बैरकपुर में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए राज्य की जनता से 5 वादे किए हैं. उन्होंने कहा है कि अगर वे सत्ता में आए तो इन 5 गारंटियों को पूरा करने पर उनका जोर रहेगा. प्रधानमंत्री की गारंटी में राम मंदिर से लेकर ओबीसी आरक्षण तक का जिक्र है. ममता बनर्जी इन्हें चुनावी मुद्दा ही नहीं मानती हैं लेकिन पीएम मोदी ने तृणमूल कांग्रेस को इन्हीं मुद्दों पर घेर लिया है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा, 'ये CAA कानून को खत्म करने की बातें कर रहे हैं लेकिन आज मैं डंके की चोट पर बंगाल को पांच गारंटी दे रहा हूं. पहली गारंटी- जबतक मोदी है धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं दिया जाएगा. दूसरी गारंटी- जबतक मोदी है SC-ST-OBC आरक्षण कोई खत्म नहीं कर पाएगा. तीसरी गारंटी- जबतक मोदी है रामनवमी मनाने, भगवान राम की पूजा करने से आपको कोई रोक नहीं पाएगा. चौथी गारंटी- जबतक मोदी है राम मंदिर पर सुप्रीम कोर्ट का जो फैसला है उस फैसले को कोई पलट नहीं पाएगा. पांचवी गारंटी- जबतक मोदी है CAA कानून को कोई भी रद्द नहीं कर पाएगा.'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'इन लोगों ने बंगाल में हिंदुओं को दोयम दर्जे का नागरिक बनाकर रख दिया है. तुष्टिकरण की ज़िद में INDI गठबंधन SC-ST-OBC को मिलने वाला आरक्षण भी छीनना चाहती है. ये लोग कह रहे हैं कि आरक्षण अब मुसलमानों को दिया जाए. पूरा का पूरा आरक्षण मुसलमानों को दिया जाए. कर्नाटक में कांग्रेस ने OBC को मिलने वाले सारे आरक्षण मुसलमान को दे चुकी है. वोट बैंक की इसी राजनीति ने CAA जैसे मानवता की रक्षा करने वाले कानून को विलेन बना दिया.'

नरेंद्र मोदी ने कहा, 'एक समय था जब बंगाल घुसपैठियों के खिलाफ क्रांति किया करता था लेकिन आज TMC के संरक्षण में यहां घुसपैठिए फल-फूल रहे हैं. आज स्थिति यह है कि बंगाल में अपनी आस्था का पालन करना भी गुनाह हो गया है. बंगाल में TMC सरकार राम का नाम नहीं लेने देती है.'


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'यहां की तस्वीर बता रही है कि बंगाल में इस बार एक अलग माहौल है. कुछ अलग होने जा रहा है. पश्चिम बंगाल मोदी के मिशन पूर्वी भारत का बहुत महत्वपूर्ण राज्य है. आजादी के 50 साल तक कांग्रेस के परिवार ने ही सरकारें चलाई लेकिन कांग्रेस शासन में पूर्वी भारत को सिर्फ गरीबी मिली, सिर्फ पलायन मिला.'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'कुछ साल पहले TMC सरकार पर CAG की रिपोर्ट आई थी और रिपोर्ट में कहा गया कि TMC ने 2,30,000 करोड़ रुपए का कोई हिसाब ही नहीं दिया है. CAG कह रही है यह पैसे कैसे और कहां खर्च हुए? इसका कोई हिसाब नहीं है. TMC कितनी भ्रष्ट पार्टी है इसका उदाहरण है 'टीचर भर्ती घोटाला'. टीचर भर्ती के लिए राज्य सरकारने रेट कार्ड बनाए थे, रेट कार्ड बाज़ारों में बेचे जाते थे और पदों की बोली लगती थी, इस घोटाले के लिए शीट चलाए गए और फर्जी इंटरव्यू किए गए. कोर्ट को भी कहना पड़ गया कि इस घोटाले के पीछे सरकारी मशीनरी है.'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, 'संदेशखाली में क्या हो रहा है उसे देश देख रहा है. संदेशखाली के गुनहगार को पहले TMC की पुलिस ने बचाया, अब नया खेल शुरू किया है, TMC के गुंडे  संदेशखाली में बहनों को डरा-धमका रहे हैं इसलिए क्योंकि अत्याचारी का नाम शाहजहां शेख है. उसके घर से बम-बंदूक निकल रहे हैं लेकिन वोट बैंक को खुश करने के लिए TMC उसे क्लीन चिट दिलवाने में जुटी है.'

क्या ये गारंटी ममता बनर्जी पर पड़ेंगे भारी?
प्रधानमंत्री मोदी ममता बनर्जी सरकार पर मुस्लिम तुष्टीकरण और करप्शन को लेकर हमला बोल रहे हैं. ममता बनर्जी का पश्चिम बंगाल में कोर वोट बैंक मु्स्लिम समाज है. वहां घुसपैठिए बनाम हिंदुस्तानी की लड़ाई भी चल रही है. ममता बनर्जी पर आरोप है कि वे केंद्रीय योजनाओं को राज्य में लागू नहीं होने देती हैं जिसकी वजह से वहां के राज्य के लोगों तक विकास नहीं पहुंच रहा है. ममता बनर्जी सीएए के खिलाफ हैं और राज्य में पारित नहीं होने दे रही हैं. इसे लेकर भी वे घिरी हैं. ममता बनर्जी के खिलाफ बीजेपी इसी एजेंडे को लेकर आगे बढ़ रही है.