menu-icon
India Daily
share--v1

1947 में हुई थी एक 'गलती,' कंगना रनौत ने पकड़ा, क्या 'युगपुरुष' करेंगे उसे ठीक?

पीएम मोदी को  'युगपुरुष' बताते हुए कंगना रनौत ने कहा कि जो गलती हुई हैं उसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुधारेंगे. वो देश को हर दिन आगे लेकर जा रहे हैं.

auth-image
India Daily Live
kangana ranaut

बीजेपी ने बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को हिमाचल की मंडी सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ाया है. पिछले कई सालों से कंगना बीजेपी खासकर के पीएम मोदी के लिए खुलकर बोलती रही हैं. हर छोटे बड़े मुद्दे पर वो अपनी राय रखती हैं. अब कंगना को भारत के इतिहास में खामियां नजर आने लगी हैं. देश के पहले प्रधानमंत्री नेहरु और महात्मा गांधी की नीतियां उन्हें गलत लगने लगी है.  

एक बार फिर से कंगना रनौत ने हिंदू राष्ट्र को लेकर बयान दिया है. उन्होंने कहा कि 1947 में धर्म के आधार पर पाकिस्तान देश का जन्म हुआ उस समय भारत को हिंदू राष्ट्र क्यों नहीं घोषित किया गया. कंगना ने कांग्रेस पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि अब हमारे पास पीएम नरेंद्र मोदी के रूप में युगपुरुष हैं, जो पिछली सारी गलतियों को सुधारेंगे. 

कांग्रेस का कुशासन देश ने देखा

कुल्लु में एक चुनवी सभा में बोलते हुए कंगना ने कहा कि हमारे पूर्वजों ने मुगलों की गुलामी देखी, उसके बाद अंग्रेजों ने हमें गुलाम बनाया फिर देश ने कांग्रेस का कुशासन देखा. उन्होंने कांगेस को घेरते हुए कहा कि हमें आजादी को 1947 में मिल गई थी, लेकिन सही मायने में हम 2014 में आजाद हुए. हमें सोचने की स्वतंत्रता, सनातन की स्वतंत्रता, अपना धर्म बनाने की स्वतंत्रता, देश को हिंदू राष्ट्र बनाने की स्वतंत्रता मिली. 

पीएम मोदी को बताया  'युगपुरुष'

पीएम मोदी को  'युगपुरुष' बताते हुए कंगना रनौत ने कहा कि जो गलती हुई है उसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुधारेंगे. वो देश को हर दिन आगे लेकर जा रहे हैं. 1947 में भारत हिंदू राष्ट्र क्यों नहीं बना हम इसे हिंदू राष्ट्र बनाएंगे.  कंगना रनौत कई मौकों पर ऐसे बयान देती रही हैं. उनका मोदी प्रेम किसी से छिपा नहीं है. 2021 में उन्होंने कहा खा कि हमें आजादी 1947 में नहीं 2014 में मिली है. कंगना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार के कार्यकाल को सच्ची आजादी बताया था. उनके इस बयान के बाद काफी विवाद हुआ था.  

राजनीति में उतरी हैं बॉलीवुड क्वीन

लोकसभा चुनाव से कंगना रनौत ने राजनीति में एंट्री मारी है. बीजीपी ने उन्हें हिमाचल के मंडी से चुनाव में उतारा है. कंगना रनौत का मुकाबला कांग्रेस के विक्रमादित्य सिंह से होगा. इस सीट पर एक जून को वोटिंग होगी. दोनों नेताओं के बीच जुबानी जंग तेज है. कुछ दिन पहले ही विक्रमादित्य सिंह ने कंगना पर बीफ खाने का आरोप लगाया था. इसपर कंगना ने कहा था कि ये गलत हैं मैं किसी भी बीफ या रेड मीट नहीं खाती. ये कांग्रेस की गुमराह करने की नाकाम कोशिश है.