banner slider 1
राम कथा के लिए क्लिक करें

अयोध्या सरयू नदी के तट पर बसी एक पवित्र नगरी है जो कि हिंदू धर्म में सबसे महत्वपूर्ण तीर्थस्थलों में से एक है. भगवान राम की जन्मस्थली होने के कारण इसे भक्तों के लिए इसे एक विशेष स्थान माना जाता है. अयोध्या प्राचीन शहरों में से एक है, जिसका उल्लेख रामायण, महाभारत और पुराणों जैसे ग्रंथों में मिलता है. अयोध्या हिंदू धर्म में सात पवित्र स्थलों में से एक है. भगवान राम के जीवन से जुड़े कई महत्वपूर्ण स्थान यहां स्थित हैं, जिनमें राम जन्मभूमि, हनुमान गढ़ी, कनक भवन और राम की पैड़ी शामिल हैं.

अयोध्या में 22 जनवरी को होने वाले राम मंदिर के उद्घाटन समारोह के लिए कई गणमान्य अतिथियों और हस्तियों को आमंत्रित किया गया है. हालांकि आधिकारिक सूची अभी तक जारी नहीं की गई है, कुछ प्रमुख संभावित लोगों के बारे में जानकारी प्रसारित हो रही है, जिनमें ये नाम शामिल हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, एन. चंद्रशेखरन, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव, बसपा प्रमुख मायावती, उप राष्ट्रपति जगदीप धनखड़, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, योग गुरू बाबा रामदेव और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत मुख्य राजनीतिक चेहरे हैं जो कि इस समारोह में शामिल होने वाले हैं.

अयोध्या में 22 जनवरी को होने वाले प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के लिए देश भर से हजारों भक्त पहुंचने की तैयारियों में लगे हुए हैं. ऐसे में अगर आप भी राम मंदिर पहुंचने की तैयारियां कर रहे हैं तो ये खबर आपके लिए है. राम मंदिर तक पहुंचने के लिए आपके पास हवाई अड्डे और रेलवे स्टेशन से कई विकल्प उपलब्ध हैं, ये इस बात पर निर्भर करते हैं कि आप सुविधा, बजट और यात्रा के समय के हिसाब से क्या पसंद करते हैं. अयोध्या में हाल ही में महर्षि वाल्मीकि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा खोला गया है, जो शहर के केंद्र से लगभग 7 किलोमीटर दूर है. इस हवाई अड्डे पर दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, लखनऊ और कोलकाता सहित प्रमुख शहरों से सीधी उड़ानें उपलब्ध हैं. 

अयोध्या, भगवान राम की पवित्र जन्मस्थली, न केवल आध्यात्मिक महत्व रखती है, बल्कि अब यह तेजी से विकास कर रही है. यहां पर कई बड़े मेगा प्रोजेक्ट चल रहे हैं, जिसका लक्ष्य अयोध्या को भविष्य की एक दिव्य नगरी के रूप में स्थापित करना है. श्री राम जन्मभूमि मंदिर: यह निस्संदेह अयोध्या का सबसे महत्वपूर्ण मेगा प्रोजेक्ट है. भव्य मंदिर का निर्माण राम जन्मभूमि स्थल पर हो रहा है और यह भगवान राम के प्रति समर्पित होगा. मंदिर का निर्माण कार्य तेज गति से चल रहा है और 2024 के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है.

अयोध्या एक पवित्र और ऐतिहासिक नगरी है, जो भगवान राम की जन्मस्थली होने के कारण जानी जाती है. 22 जनवरी को होने वाले प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के चलते यहां हजारों लोग जानें का प्लान कर रहे हैं. ऐसे में आज हम आपको बता दें कि वहां घूमने के लिए कई दर्शनीय स्थल. यह अयोध्या का सबसे पवित्र स्थान है, जहां भगवान राम का जन्म हुआ माना जाता है. यहां भव्य श्री राम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण चल रहा है.

नवीन अयोध्या