share--v1

Sheetla Ashtami 2024: हर बीमारी से मुक्ति दिलाएंगे, शीतला अष्टमी के ये उपाय 

Sheetla Ashtami 2024: चैत्र माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को शीतला अष्टमी का पर्व मनाया जाता है. इस दिन कुछ उपायों को करने से आरोग्यता आती है. माना जाता है कि माता शीतला का पूजन जीवन में सुख और समृद्धि दिलाता है. 

auth-image
India Daily Live
Courtesy: maa sheetla

Sheetla Ashtami 2024: शीतला अष्टमी को बसौड़ा अष्टमी के नाम से जाना जाता है. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार माता शीतला की उपासना करने से सभी रोगों और दोषों से मुक्ति मिलती है. इसके साथ ही सुख और समृद्धि की भी प्राप्ति होती है. शीतला अष्टमी पश्चिमी उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान आदि कई राज्यों में मनाया जाता है. 

शीतला अष्टमी के दिन माताएं अपनी संतान के दीर्घायु के लिए व्रत करती हैं. इसके साथ ही परिवार को हर प्रकार की बीमारी से दूर रखने की कामना करती हैं. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार माता शीतला का पूजन करने से बच्चों को चेचक रोग नहीं होता है. स्कंद पुराण में भी ब्रह्मा जी ने माता शीतला के पास पूरी सृष्टि के लोगों की रोगमुक्ति और स्वच्छता की जिम्मेदारी दी थी.

इस कारण माता को स्वच्छता की देवी माना जाता है. साल 2024 में शीतला अष्टमी का व्रत 2 अप्रैल को रखा जा रहा है. इस पर्व का आरंभ सप्तमी तिथि से ही हो जाता है. माता को इस दिन बासे भोजन का भोग लगाया जाता है.  मान्यता है कि इस दिन कुछ उपायों को करने से जीवन में सुख-समृद्धि आती है और व्यक्ति रोगमुक्त होता है. 

शीतला अष्टमी पर करें ये उपाय

  • मान्यता है कि इस दिन शीतल जल से ही स्नान करें. ऐसा करने से माता प्रसन्न होती हैं. 
  • घर में किसी पवित्र नदी के जल का छिड़काव करें. 
  • मान्यता है कि नीम के पेड़ में माता शीतला का निवास होता है. शीतला अष्टमी के दिन नीम के पेड़ पर जल अर्पित करें. 
  • माता शीतला को लाल रंग के फूल और वस्त्र अर्पित करें. इसके साथ ही उनको श्रृंगार का सामान भी भेंट करें. 
  • अगर आपका बच्चा बार-बार बीमार पड़ता है तो माता शीतला को पूजा में हल्दी अर्पित करें. इसके बाद उस हल्दी को घर के सभी सदस्यों को लगाएं. 
  • माता शीतला का वाहन गधा है. इस कारण इस दिन गधे की सेवा अवश्य करें. इस दिन माता का प्रसाद की मिट्टी के बर्तन बनाने वाले कुम्हार की पत्नी को दें. 

Disclaimer : यहां दी गई सभी जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है.  theindiadaily.com  इन मान्यताओं और जानकारियों की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह ले लें.